गृहमंत्री ने तूफान से निपटने के लिए सेना को अलर्ट रहने का निर्देश दिया

Foto

भारत के समाचार/ India news

अहमदाबाद। चक्रवात तूफान 'वायु' पूरे जोर के सथ आगे बढ़ रहा है। मौषम विभाग के अनुसार अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण चक्रवाती तूफान 'वायु' तेज हो गया है। तूफान गुजरात की तरफ तेजी से आगे बढ़ रहा। जिसको लेकर देश के गृहमंत्री अमित शाह ने बैठक करते हुए समीक्षा की। शाह ने कहा कि उच्च अधिकारी बचाव के तरीकों को खोजें। साथ ही तीनों ही सेनाओं को अलर्ट रहने को कहा है। सुरक्षा जवानों को बचाव के लिए तैनात भी कर दिया गया है।

मौषम विभाग के मुताबिक चक्रवात तूफान 'वायु' का जो खतरा बना हुआ है, वह गुजरात के तटीय इलाकों में है। 24 घंटों के भीतर तूफान विकराल रूप ले सकती है। उत्तर ​की तरफ जिस तरह से तूफान ‘वायु’ बढ़ रहा है, संभावना जताई जा रही कि 13 जून तक सुबह गुजरात के  पोरबंदर, महुवा, वेरावल और दीव क्षेत्र को प्रभावित कर सकती है। तूफान की तीव्रता 115 से 130 किमी प्रति घंटा तक होने की संभावना है। वहीं, तूफान को लेकर मौषम विभाग की चेतावनी के बाद गुजरात सरकार ने राज्य में ‘हाई अलर्ट’ जारी कर दिया है। सुरक्षा के मद्देनजर सौराष्ट्र और कच्छ इलाकों में एनडीआरएफ के जवानों को तैनात कर दिया गया है।

राज्य सरकर ने ‘हाई अलर्ट’ जारी करते हुए मछुआरों को समुद्र तटीय इलाकों में नहीं जाने की हिदायत दी है। मौषम विभा ने यह भी आशंका जताई है कि 11 जून को लक्षद्वीप और पूर्व-मध्य अरब सागर में ऊंची लहरें उठ सकती हैं। चक्रवाती तूफान गुजरात के साथ ही मुंबई को भी अपने प्रभाव में ले सकता है। ऐसे में मुंबई के समुद्र तटीय इलाकों में रहने वाले मछुआरों को लेकर अलर्ट जारी किया गया है।

यह भी पढ़ें:सीएम ममता का मोदी सरकार पर हमला, पश्चिम बंगाल को गुजरात बनाने की योजना

यह भी पढ़ें:झांसी: तेज धूप में रुक-रुक कर चली ट्रेन, गर्मी से बेहाल पांच यात्रियों ने...

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी