भारत की बड़ी कामयाबी, 2022 में करेगा G-20 समिट की मेजबानी

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत स्वतंत्रता के 75वें वर्ष 2022 में जी-20 शिखर सम्मेलन का आयोजन करेगा। पीएम मोदी ने एक ट्वीट में कहा कि 2022 में भारत जी-20 शिखर सम्मेलन में विश्व का स्वागत करने को उत्सुक है। प्रधानमंत्री ने दुनियाभर के नेताओं को भारत आने का न्यौता दिया।

प्रधानमंत्री ने इटली से 2021 का शिखर सम्मेलन आयोजित करने और भारत को 2022 में यह अवसर देने का अनुरोध किया था। पीएम मोदी ने कहा कि इटली और अन्य देशों ने उनका अनुरोध स्वीकार कर लिया। उन्होंने इसके लिए आभार प्रकट किया।

2022 जब भारत की आजादी के 75 साल होंगे, एक बढ़ा महत्वपूर्ण अवसर है। उस समय विश्व के सभी लीडरशिप भारत आये और इसलिए हमने इटली से रिक्वेस्ट की थी कि अगर 21 की बजाए 22 अगर भारत को मिलता है और मैं इटली का बहुत आभारी हूं कि उन्होंने हमारी रिक्वेट को स्वीकार किया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ब्यूनस आयरस में जी-ट्वेंटी शिखर सम्मेलन, ब्रिक्स शिखर सम्मेलन और कई अन्य बैठकों में हिस्‍सा लेने के बाद नई दिल्‍ली के लिए रवाना हो गए हैं।

दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति रामाफोसा के साथ बैठक में पीएम मोदी ने उन्हें अगले वर्ष गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित किया। इसी वर्ष महात्मा गांधी की 150वीं जयंती भी मनाई जाएगी।

भारत और यूरोपीय संघ के बीच मैत्री बढ़ाने और आतंकवाद को समाप्त करने से संबंधित पहलुओं पर चर्चा की गई। पीएम मोदी ने अर्जेंटीना के राष्ट्रपति मोरिसिओ मैक्री के साथ द्विपक्षीय संबंध मजबूत बनाने को लेकर विस्तृत चर्चा की और उन्हें भारत आने का न्यौता दिया।

भारत और फ्रांस के बीच रणनीतिक भागीदारी, विशेष रूप से व्यापार तथा जनता के बीच पारस्परिक संबंध मजबूत करने पर भी पीएम मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों के साथ बातचीत की।

नदियों के पुनरुद्धार और अंदरुनी जलमार्ग, ढांचागत परियोजनाओं के मुद्दे पर पीएम मोदी ने नीदरलैंड के प्रधानमंत्री मार्क रूट के साथ चर्चा की।

उभरती अर्थव्यवस्थाओं वाले देशों में जनता पहले की नीति को प्रभावी ढंग से अमल में लाने के लिए विकसित देशों के सुविचारित दृष्टिकोण की आवश्यकता पर बल देते हुए जी-20 शिखर सम्मेलन संपन्न हुआ।

यह भी पढ़ें: 'योग फॉर पीस' कार्यक्रम में पीएम मोदी, 'दुनिया के लिए भारत का तोहफा है योग'

यह भी पढ़ें: त्रिपक्षीय मुलाकात के बाद बोले मोदी : जापान, अमेरिका और भारत मतलब 'JAI'

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी