वर्ष के अंत में होगा अमेरिका के साथ भारतीय सेना का दूसरा अन्तरराष्ट्रीय सैन्य अभ्यास

Foto

India News / भारत के समाचार


सेना की तीनों विंग अमेरिका सेना के साथ अलग—अलग करेंगी अभ्यास 


नई दिल्ली। रूस के बाद भारत का अमेरिका के साथ दूसरा अन्तरराष्ट्रीय सैन्य अभ्यास इस साल के अंत तक हो सकता है। यह पहला मौका होगा जब देश की तीनों सेनाएं जल, थल और नभ एक साथ अमेरिकी सेना के साथ अलग—अलग अभ्यास करेंगी।

 

यह भी पढ़ें : 20 जुलाई से जाम हो जायेंगे देश के 95 लाख ट्रकों के पहिये

 

इसके लिए दोनों देशों के रक्षा मंत्रालय के अधिकारी प्रारूप तैयार करने में जुट गए हैं। पिछले साल तीनों भारतीय सेनाओं ने रूस मे इंद्र-2017 द्विपक्षीय सैन्य अभ्यास के तहत रूसी सेनाओं के साथ सम्मिलित रूप से हिस्सा लिया था। इसमें भारतीय सेना के 350 जवान, वायुसेना के 80 जवान शामिल हउए थे।

वहीं नौसेना की तरफ से दो आईएल 76 एयरक्राफ्ट, एक फ्रिगेट और एक कॉरवेट ने हिस्सा लिया था। यह जानकारी रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने दी है। वहीं भारत और अमेरिका के बीच 'टू प्लस टू' वार्ता सितम्बर में हो सकती है। इससे पहले दो बार निर्धारित तिथियों में फेरबदल किया जा चुका है। रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ​इस वार्ता के सितम्बर में होने की बात कह चुकी हैं।

 

यह भी पढ़ें :  #Uttarakhand Cloudburst: चमोली में बादल फटने से 10 दुकान और कई वाहन बहे

 

जिसमें रक्षा मंत्री के साथ विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी शामिल होंगी। वहीं अमेरिका की ओर से अमेरिका के रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस व विदेश मंत्री माइक पोंपियो के बीच वार्ता होनी है।

 

 

 

 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी