जवान की शहादत का लिया बदला, सेना ने तीन आतंकियों को किया ढेर

Foto

भारत समाचार

 

दिल्ली। जम्‍मू-कश्‍मीर के कुलगाम सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। रविवार सुबह सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच कुलगाम के खुदवानी क्षेत्र के वानी मोहल्‍ला में मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ तीन आतंकियों को मार गिराया गया। इलाके में कई आतंकियों के छिपे होने की आशंका है और सेना का तलाशी अभियान लगातार जारी है। सुरक्षा बलों ने शक जताया है कि शनिवार को की गई पुलिस कांस्‍टेबल सलीम की हत्‍या के पीछे इन्‍हीं आतंकियों का हाथ है।

 

यह भी पढ़ें : दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर जाएंगे पीएम मोदी, जानिए क्या होंगे महत्वपूर्ण एजेंडे

 

जम्‍मू-कश्‍मीर के कुलगाम से ही अपहृत किए गए पुलिस कॉन्‍स्‍टेबल की आतंकियों ने शनिवार को हत्‍या कर दी थी। शहीद कॉन्‍स्‍टेबल का शव शनिवार शाम कुलगाम के जंगलों से बरामद किया गया है। उल्‍लेखनीय है कि शनिवार तड़के आतंकियों ने पुलिस के ट्रेनी कॉन्‍स्‍टेबल का अपहरण कर लिया था, अपहृत कॉन्‍स्‍टेबल की पहचान सलीम शाह के रूप में हुई थी।

कॉन्‍स्‍टेबल सलीम शाह इन दिनों छुट्टियों में अपने घर आए हुए थे। वहीं, इस आतंकी वारदात की सूचना मिलते ही जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस, सीआरपीएफ और भारतीय सेना के जवानों की संयुक्‍त टीम ने कॉन्‍स्‍टेबल सलीम की सुरक्षित वापसी के लिए सघन तलाशी अभियान शुरू किया था। सुरक्षाबलों को कोई सफलता मिलती, इससे पहले कॉन्‍स्‍टेबल सलीम के शहादत की खबर आ गई।

 

यह भी पढ़ें : शाहजहांपुर में बोले पीएम...हमने पूछा अविश्वास का कारण बताओ तो वे गले ही पड़ गए

 

सुरक्षाबलों से सूत्रों के अनुसार, कॉन्‍स्‍टेबल मोहम्‍मद सलीम दक्षिण कश्‍मीर के कुलगाम जिले के अंतर्गत आने वाले मुतालहामा गांव के रहने वाले थे। कॉन्‍स्‍टेबल मोहम्‍मद सलीम का बीते कुछ महीनों पहले जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस में बतौर कॉन्‍स्‍टेबल चयन हुआ था। फिलहाल, उनकी कठुआ स्थित पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में प्रशिक्षण चल रहा था. बीते कुछ दिनों पहले वह छुट्टी पर अपने घर आए हुए थे। सूत्रों के अनुसार, रविवार तड़के हथियार बंद आतंकियों ने कॉन्‍स्‍टेबल मोहम्‍मद सलीम के घर पर धावा बोल दिया. आतंकी हथियारों के बल कॉन्‍स्‍टेबल मोहम्‍मद सलीम का अपहरण कर अपने साथ ले गए थे।

आतंकियों के फरार होने के बाद परिजनों ने इस बाबत स्‍थानीय पुलिस को सूचना दी. मामले की गंभीरता को देखते हुए घाटी में तैनात सभी सुरक्षाबलों को इस सनसनीखेज वारदात से सूचित किया गया। जिसके बाद, भारी संख्‍या में सुरक्षाबल मौके पर पहुंच गए और इलाके की घेराबंदी शुरू कर दी. संयुक्‍त सुरक्षाबलों की करीब दो दर्जन से अधिक टीमों का गठन कर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया था।

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी