केरल : नासा ने जारी की तबाही की हैरान करने वाली तस्वीरें

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

नई दिल्ली। केरल सदी की सबसे भीषण बाढ़ से जूझ रहा है। इससे पहले केरल ने ऐसी बाढ़ साल 1924 में देखी थी। नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) ने केरल में आई बाढ़ की वजह बताई है। नासा ने केरल की बाढ़ से पहले और बाढ़ के बाद की सैटेलाइट तस्वीरें जारी की है। तस्वीर में साफ देखा जा सकता है कि केरल का 70 फीसदी हिस्सा पानी में डूबा है।

 6 फरवरी 2018

नासा द्वारा जारी की गई तस्वीरों में एक 6 फरवरी की है। जबकि दूसरी 22 अगस्त की है। नासा के मुताबिक केरल में बाढ़ का कारण बांध से छोड़ा गया पानी है। इसका सही से प्रबंधन नहीं किया गया था। अगर सही प्रबंधन होता तो ये तबाही नहीं आती। केरल में आई बाढ़ में 50 हजार घर बर्बाद हुए।

 22 अगस्त 2018

नासा वैज्ञानिक सुजय कुमार ने बताया कि भारी बारिश के बीच बांध का पानी छोड़ना गलत था। यहां तेज बारिश 20 जुलाई से शुरु हुई थी और बाढ़ 8 अगस्त को आई थी। जून और जुलाई तक हालात उतने खराब नहीं थे।

केरल में आई सदी की सबसे भारी बाढ़ करीब 443 लोगों के मौत का सबब बनी। 3.42 लाख लोग राहत शिविरों में दिन गुजार रहे है। इस तबाही में इंसान ही नहीं पशु-पक्षियों को भी नुकसान पहुंचाया। बाढ़ में करीब 4 लाख पक्षियों और 22 हजार से अधिक छोटे और बड़े पशुओं की मौत हुई। 
 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी