लोकसभा चुनाव: देश में मोदी की सुनामी, लेकिन इन राज्यों में सूपड़ा साफ

Foto

  National News/भारत के समाचार 

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 में पीएम नरेन्द्र मोदी की सुनामी का असर परिणामों के रुझान सामने आने के बाद देखते बन रहा है। यूपी से लेकर जम्मू कश्मीर में मोदी लहर का असर देखते बन रहा है। जहां बीजेपी को कभी सीटें जीतने का अनुमान नहीं लगाया जाता था 2019 में उन राज्यों में भी मोदी लहर ने झंडा गाड़ दिया है। पिछली बार 2014 के लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी लहर चली अब सुनामी में बदल गई। पीएम मोदी ने वाराणसी से अपने ही पिछली जीत के रिकॉर्ड को तोड़ दिया। हालांकि, अभी परिणाम तो सामने नहीं आए। लेकिन रुझानों में सबकुछ साफ हो गया है। 

अब तक जो भी रुझान सामने अए हैं, उसमे सहयोगी दलों के साथ 330 से भी अधिक सीटें हासिल करती नजर आ रही है। हालांकि, कुछ ऐसे भी राज्य हैं, जहां मोदी की लहर का कोई असर नहीं दिखा। यहां पूरी तरह से बीजेपी का सूपड़ा ही साफ हो गया।  बता दें कि जिन तीन राज्यों में मोदी लहर नहीं चला वह दक्षिण भारत से है। बता दें कि आंध्र प्रदेश में मोदी का जादू नहीं चला। यहां जगनमोहन रेड्डी ने कमाल कर दिखाया। लोकसभा चुनाव ही नहीं विधानसभा चुनाव में भी प्रचंड बहुमत मिला। नायडू सिर्फ विपक्षी दलों को एकजुट करने में ही लगे रहे।

तमिलनाडु राज्य में भी पीएम मोदी की लहर का कोई असर नहीं हुआ। यहां बीजेपी ने  अन्नाद्रमुक के साथ मिलकर चुनाव लड़ा। विपक्षी द्रमुक ने कांग्रेस के साथ मिलकर भाजपा-अन्नाद्रमुक को धराशाई कर दिया। बीजेपी के लिए यहां समझौता करके चुनाव लड़ना भारी पड़ा। यहां राहुल गांधी का जादू दिखाई देता बन रहा है। यदि यहां कांग्रेस बेहतर नहीं करती तो हार का ग्राफ और भी नीचे चला जाता।

केरल राज्य में मोदी का जादू नहीं चल पाया। उम्मीद जताई जा रही थी कि मोदी की लहर के कारण यहां से लाभ मिलेगा। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। भाजपा और संघ की रणनीति यहां पूरी तरह से फेल रही। हालांकि, पिछली बार भी यहां बीजेपी का प्रदर्शन इसी तरह था। इस बार कर्नाटक में जरूर बीजेपी को फायदा हुआ है। जिस तरह से मोदी लहर के बावजूद दक्षिण में कोई फायदा नहीं दिख रहा, ऐसे में माना जा रहा कि अभी और मेहनत करने की जरूरत बीजेपी को है।   

यह भी पढें:अब आप नमो टीवी नहीं देख सकेंगे, नमो टीवी का प्रसारण बंद

यह भी पढें:सपा प्रतिनिधिमण्डल ने उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी वेंकटेश्वर...

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी