केरल : 11 महिलाओं ने की सबरीमाला में प्रवेश की कोशिश, विरोध

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

पम्बा। रविवार सुबह उस समय पम्बा में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई जब 50 वर्ष से कम आयु की 11 महिलाओं के एक समूह ने भगवान अयप्पा मंदिर में पहुंचने की कोशिश की। श्रद्धालुओं ने महिलाओं के इस कदम का विरोध किया।

महिलाओं के समूह ने मंदिर परिसर से लगभग पांच किलोमीटर दूर पारंपरिक वन पथ के माध्यम से अयप्पा मंदिर पहुंचने की कोशिश की, लेकिन श्रद्धालुओं के विरोध की वजह से वे आगे नहीं बढ़ सकीं। निषेधात्मक आदेश की अवहेलना करते हुए सैकड़ों श्रद्धालु यहां एकत्रित हुए और उन्होंने भगवान अयप्पा के भजन जोर-जोर से गाने शुरू कर दिए।

चेन्नई के 'मानिथि' संगठन की ये महिलाएं लगातार विरोध के बाद सुबह पांच बजकर 20 मिनट से सड़क पर बैठीं हैं। पुलिस ने उनके आसपास घेरेबंदी कर दी है। इस समूह की संयोजक सेल्वी से पुलिस की बातचीत भी विफल रही क्योंकि उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि वे दर्शन किए बिना नहीं लौटेंगी।

सेल्वी ने पत्रकारों से कहा, 'प्रदर्शन के मद्देनजर पुलिस हमें वापस जाने को कह रही है लेकिन हम दर्शन किए बिना नहीं जाएंगे। हम यहां तब तक इंतजार करेंगे जब तक हमें आगे नहीं जाने दिया जाता।'

गौरतलब है कि सबरीमाला मंदिर में 10-50 वर्ष की आयु वर्ग की महिलाओं के प्रवेश पर पारंपरिक रूप से लगी रोक के खिलाफ आदेश देते हुए उच्चतम न्यायालय ने 28 सितंबर को सभी आयु वर्ग की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश और पूजा की अनुमति दे दी थी। तब से मंदिर में प्रवेश को लेकर कई बार प्रदर्शन हो चुके हैं।

यह भी पढ़ें: सबरीमाला मंदिर: चार ट्रांसजेंडरों को पूजा करने की इजाजत

यह भी पढ़ें: पूरे उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप, पारा शून्य से नीचे

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी