जब्त होगी ब्रजेश ठाकुर की पत्नी व अन्य सात की संपत्ति

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

 

पटना। मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड मामले में मुख आरोपी ब्रजेश ठाकुर की पत्नी समेत 7 लोगों की संपत्तियों को जब्त करने के आदेश मजिस्ट्रेट ने दिए है। मजिस्ट्रेट की तलवार उन लोगों के गर्दन पर लटकी, जो सेवा संकल्प समिति के लोग हैं। समिति के लोग बालिका गृह को चलाने का काम करते थे। बताते चलें कि मुजफ्फरपुर मामले में साइस्ता परवीन उर्फ मधु व लड़कियों को बेहोशी की दवा देने वाले डॉक्टर अश्विनी कुमार को सीबीआई ने गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट में सरेंडर करते वक्त  रिमांड पर लिया था। दोनों ही आरोपियों ने पूछताछ में होश उड़ाने वाले खुलासे किए थे।

 

 

किया था ये खुलासा

 

मधु ने सीबीआई को बताया कि ब्रजेश ठाकुर की इतनी धाक थी कि कोई भी उसके खिलाफ मुंह खोलने की जरूरत नहीं करता था। यहां तक कि बाल कल्याण समिति और समाज कल्याण के अधिकारी भी चुन रहने में ही अपनी भलाई समझते थे। इसका कारण ठाकुर की ऊपर तक पहुंच थी। मधु ने बताया कि कई अफसर ब्रजेश की काली करतूतों के बारे में जानते थे। लेकिन किसी ने भी इस पर एक्शन नहीं लिया। 

 


जांच में गंदा खेल


मधु ने सीबीआई को बताया कि जब भी विभागीय जांच होती सही रिपोर्ट ही बनाकर ऊपर अधिकारियों को सौंपी जाती। रिपोर्ट में ब्रजेश ठाकुर के डर से सबकुछ ठीकठाक चलने की मुहर ही लगाई जाती थी। फिलहाल अब सीबीआई इस बड़े खुलासे के बाद अफसरों से पूछताछ और जांच के लिए लिस्ट तैयार कर रही है। अब किस अधिकारी को सीबीआई अपना टार्गेट बनाकर कोई नया खुलासा करती है, ये तो आगे की कार्रवाई के बाद ही पता चलेगा। लेकिन यह तो तय है कि मधु के खुलासके के बाद कई सफेदपोशों के घनौने चेहरे सामने आएंगे। सीबीआई समाज कल्याण समिति के अध्यक्ष अध्यक्ष दिलीप वर्मा को हिरासत में लेने के लिए छापेमारी कर रही है।

 

यह भी पढ़ें...बिना सहमति के पाकिस्तान गए सिद्धू : अमरिंदर सिंह

 

यह भी पढ़ें...ISRO का अनूठा मिशन : PSLV-C43 रॉकेट लॉन्चिंग की उल्टी गिनती शुरू

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी