देश की सुरक्षा से समझौता नहीं: पीएम मोदी

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत शांति का प्रबल समर्थक है लेकिन देश की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए वह कोई भी कदम उठाने से नहीं हिचकेगा।

सोमवार को एनसीसी गणतंत्र दिवस शिविर की समापन परेड को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि नए भारत में युवा अपने कौशल की बदौलत पहचाने जाएगें।

प्रधानमंत्री ने कैडेटों से आग्रह किया कि वे सभी प्रकार की नकारात्‍मकता को भुलाकर अपनी और देश की बेहतरी के लिए काम करे। पीएम मोदी ने एनसीसी के गार्ड का निरीक्षण किया और सर्वश्रेष्ठ कैडेटों को पुरस्कृत भी किया।

पीएम नरेंद्र मोदी एनसीसी की प्रधानमंत्री रैली के लिए दिल्ली कैंट स्थित करिअप्पा परेड ग्राउंड पहुंचे। एनसीसी के तीनों स्कंधों और छात्रा कैडेटों ने प्रधानमंत्री को गार्ड ऑफ ऑनर दिया और प्रधानमंत्री ने गार्ड का निरीक्षण किया।

एनसीसी के 17 निदेशालयों और युवा आदान प्रदान कार्यक्रम के तहत आए 11 देशों के कैडेटों ने परेड में निकलकर प्रधानमंत्री को सलामी दी। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने कहा कि एनसीसी अनुशासन के साथ जीना सीखाती है साथ ही नए संकल्पों के लिए ऊर्जा भी देती है।

एनसीसी की इस रैली में प्रधानमंत्री के समक्ष कैडेटों ने अद्भूत आर्मी एक्शन पेश किया। इसके अलावा कैडेटों ने पैरासेलिंग के जरिये पीएम को सलामी दी। प्रधानमंत्री ने सर्वश्रेष्ठ कैडेटों को सम्मानित भी किया।

इस साल एनसीसी के 17 निदेशालयों में से चैंपियन ट्रॉफी का खिताब कर्नाटक और गोवा निदेशालय ने अपने नाम किया जबकि तमिलनाडू निदेशालय दूसरे स्थान पर रहा।

गणतंत्र दिवस के मौके पर आयोजित होने वाली इस रैली की शुरूआत वर्ष 1951 में पागल जिम खाना और खेल के रूप में हुई थी और 1954 से ये रैली मौजूदा स्वरूप में आयोजित की जा रही है जिसे प्रधानमंत्री रैली के नाम से जाना जाता है। 

यह भी पढ़ें: कैसे RSS के फुल टाइम प्रचारक बने थे पीएम मोदी?

यह भी पढ़ें: ISRO ने लांच किया सबसे हल्‍का सैटेलाइट, पीएम मोदी ने दी बधाई

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी