राफेल डील फैसले पर बोले प्रशांत भूषण, 'सुप्रीम कोर्ट का फैसला एकदम गलत'

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

नई दिल्ली। राफेल डील के खिलाफ याचिकाकर्ताओं में से एक अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को एकदम गलत करार दिया। उन्होंने बताया कि वायु सेना ने कभी कहा है कि 36 राफेल चाहिए।

प्रशांत भूषण ने कहा कि एयरफोर्स से बिना पूछे पीएम मोदी ने फ्रांस जाकर समझौता कर लिया। आगे कहा कि इसके बाद तय कीमत से ज्यादा पैसे दे दिया। फिर कोर्ट में कीमतों पर सीलबंद रिपोर्ट दे दी जिसके बारे में हमें कोई जानकारी नहीं दी गई। 

वहीं कोर्ट के ऑफसेट पार्टनर चुनना है जबकि रक्षा सौदे में​ बिना सरकार की सहमति के कोई फैसला नहीं लिया जा सकता है। 

राफेल डील मामले में भ्रष्टाचार का आरोप लगने के बाद सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही थी। कोर्ट ने कहा कि राफेल लड़ाकू विमान सौदे मामले में किसी तरह का संदेह नहीं है। कोर्ट के फैसले से केन्द्र सरकार ने राहत भरी सांस ली है। 

कोर्ट ने निर्णय सुनाते हुए कहा कि खरीद की प्रक्रिया को लेकर कोई कमी सामने नहीं आई है। इसके साथ ही यह भी कहा कि कीमत देखना कोर्ट का काम नहीं। यह फैसला सुनाने के बाद कोर्ट ने मामले में दायर अन्य सभी याचिकाओं को ​खारिज कर दिया। 

कोर्ट के इस फैसले से जहां पीएम नरेंद्र मोदी सरकार को राहत मिली है। वहीं, कांग्रेस को तगड़ा झटका लगा है। बताते चलें कि कांग्रेस हमेशा से ही यह आरोप लगाती रही है कि राफेल विमान खरीद में बड़ा घोटाला किया गया है।  

यह भी पढ़ें: राफेल डील सौदे पर कोई संदेह नहीं: सुप्रीम कोर्ट

यह भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट की चिंता पर कठघरे में सरकार  

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी