राफेल पर राहुल का नया सबूत, PM को बताया बिचौलिया

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

नई दिल्ली। राफेल रक्षा सौदे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय सरकार पर हमलावर रहे राहुल गांधी मंगलवार को नए सबूतों से साथ मीडिया से मुखातिब हुए। पीएम मोदी पर आरोप लगाते हुए राहुल गांधी ने एक ईमेल का ज़िक्र किया और कहा कि इससे साफ पता चलता है कि पीएम मिडिल मैन की तरह काम कर रहे थे।

प्रेस कांफ्रेंस में राहुल गांधी ने एक ईमेल का जिक्र किया। उन्होंने कहा, 'अनिल अंबानी ने फ्रांस के रक्षा मंत्री के कार्यालय का दौरा किया था। इस दौरान अंबानी ने कहा था कि जब पीएम आएंगे तो एक एमओयू साइन होगा जिसमें अनिल अंबानी का नाम होगा यानि राफेल डील का। इस बारे में न तो भारत के तत्कालीन रक्षा मंत्री को मालूम था और नही ही एचएएल या विदेश मंत्री को।'

आगे राहुल ने कहा, 'लेकिन राफेल डील से 10 दिन पहले अनिल अंबानी को इस डील के बारे में मालूम था। इसका मतलब है कि प्रधानमंत्री अनिल अंबानी के मिडिलमैन की तरह काम कर रहे थे। सिर्फ इसी आधार पर टॉप सीक्रेट को किसी के साथ शेयर करने को लेकर प्रधानमंत्री पर मुकदमा चलाया जाना चाहिए। उन्हें जेल भेजना चाहिए। यह देशद्रोह का मामला है।'

यह भी पढ़ें: राफेल पर राहुल का वार, मोदी सरकार ने SC से बोला झूठ

यह भी पढ़ें: अगले चुनाव में मोदी सरकार पर होगी ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ : राहुल


 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी