राईफलमैन औरंगजेब व मेजर आदित्य होंगे शौर्य चक्र से सम्मानित

Foto

भारत के समाचार/ India News

नई दिल्ली। भारत सरकार ने मेजर आदित्य और राइफलमैन औरंगजेब को शौर्य चक्र से सम्मानित करने का फैसला किया है। बता दें कि जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के हाथों शहीद हुए भारतीय सेना में राइफलमैन औरंगजेब को मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया जाएगा। औरंगजेब मेजर शुक्ला की टीम ने ही आतंकी समीर टाइगर का एनकाउंटर किया था।

गुरुवार को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश के जांबाज सिपाहियों को भी सम्मानित किया जाएगा, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने वीरता के लिए दिए जाने वाले सर्वोच्च पुरस्कारों की घोषणा की है. सीआरपीएफ ने 5 शौर्य चक्र, 2 राष्ट्रपति पुलिस पदक और 89 पुलिस पदक से सम्मानित किया जाएगा।
 

ये भी पढ़ें:   वर्कफोर्स के मामले में महिलाओं की घटी संख्या

 

गौरतलब है कि औरंगजेब को आतंकियों ने 14 जून की सुबह उस समय अगवा कर लिया था, जब वह ईद मनाने के लिए अपने घर जा रहे थे उनका गोलियों से छलनी शव पुलवामा से बरामद हुआ था. औरंगजेब पुंछ जिले के रहने वाले थे पुलिस और सेना के संयुक्त दल को औरंगजेब का शव कालंपोरा से करीब 10 किलोमीटर दूर गुस्सु गांव में मिला. उनके सिर और गर्दन पर गोलियों के निशान थे। 

14 जून की सुबह करीब नौ बजे यूनिट के सैनिकों ने एक कार को रोककर चालक से औरंगजेब को शोपियां तक छोड़ने को कहा,आतंकवादियों ने उस वाहन को कालंपोरा में रोका था और जवान का अपहरण कर लिया था।

इस घटना के बाद एक वीडियो सामने आया था, इस वीडियो में आतंकियों ने औरंगजेब को एक पेड़ के नीचे बैठा रखा था और उससे सवाल पूछ रहे थे वीडियो में किसी आतंकी का चेहरा तो नहीं दिख रहा था लेकिन औरंगजेब के साथ हुई बातचीत में आतंकी की आवाज एकदम साफ सुनाई दे रही थी,इस वीडियो में आतंकियों ने राइफलमैन औरंगजेब से उसके पिता का नाम,घर और किसी एनकाउंटर के दौरान उसके शामिल होने को लेकर सवाल पूछे।

 

ये भी पढ़ें:   लालकिले की प्राचीर से अपना रिपोर्ट कार्ड पेश करेंगे पीएम मोदी !

 

गढ़वाल राइफल के मेजर ने आदित्य जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सेना पर पथराव कर रही भीड़ को काबू करने के लिए फायरिंग की थी इस घटना में तीन नागरिकों की मौत हुई थी। इस घटना में जम्मू-कश्मीर पुलिस ने मेजर आदित्य और उनकी यूनिट के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की थी। 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी