राजभवन के 86 कर्मचारी पर हर महीने 40 लाख खर्च करती है यूपी सरकार

Foto

State News / राज्यों के समाचार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के राजभवन में 86 कर्मचारी कार्यरत है और सरकार हर महीने इन पर 40 लाख रुपये खर्च करती है।  इनमें से प्रमुख और विशेष सचिव का वेतन शासन द्वारा वहन किया जाता है, ज​बकि अन्य कर्मियों के ​वेतन के लिए करीब 40 लाख रुपये का खर्च आता है। यह जानकारी आरटीआई द्वारा एक्टीविस्ट डा. नूतन ठाकुर को राजभवन के जन सूचना अधिकारी की तरफ से प्राप्त हुई है।  

राजभवन में एक प्रमुख सचिव, एक विशेष सचिव तथा एक विधि परामर्शी है। साथ ही 4 विशेष कार्याधिकारी, 4 निजी सचिव तथा अन्य सचिवालयीय सहायक है।

यह भी पढ़ें: पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत बढ़ाने के बाद सरकार चिंता में

डा. ठाकुर को मिली जानकारी के मुताबिक 1 शेफ, 1 स्टीवर्ड, 6 चालक, 3 वरिष्ठ अनुसेवक और 19 अनुसेवक है। इनके अलावा 16 बेयरर, 5 सहायक बेयरर, 3 मेट, 2 कुक, 1 टेलर, 1 रजक और 5 सफाईकर्मी है। प्रमुख तथा विशेष सचिव के वेतन शासन से मिलते है। अन्य कर्मियों का मासिक वेतन 39,70,530 रुपये है।

राजभवन की सुरक्षा के मद्देनजर सूचना आधिकारी ने विभिन्न शासकीय पुलिस कर्मियों की संख्या और उनका मासिक वेतन आरटीआई के अ​धीन अपवर्जित बताते हुए मना कर दिया। इस पर नूतन ने कहा कि वो इसके खिलाफ अपील करेंगी।

यह भी पढ़ें: अब आसाराम के बेटे से उसकी पत्नी ने मांगी भरण पोषण की बकाया राशि

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी