संत रामपाल के मामले में आ सकता है फैसला, जिले की सीमाएं सील, धारा 144 लागू

Foto

 

भारत के समाचार/National News


चंडीगढ़। संत रामपाल से जुड़े सतलोक आश्रम मामले में आज फैसला आ सकता है। सुनवाई हिसार जेल में होगी और जज भी पहुंच चुके हैं। गुरमीत राम रहीम पर फैसले के बाद हुई हिंसा से सबक लेते हुए 48 घंटे पहले ही जिले की सीमाएं सील कर धारा 144 लागू कर दी गई है। बड़ी संख्या में सुरक्षा के मद्देनजर फोर्स तैनात किया गया है। इस सख्ती के बाद रामपाल के समर्थक न तो जिले के अंदर आ सकेंगे और न ही बाहर जा सकेंगे। 

 

यह भी पढ़ें...नवरात्रि में माँ को करना है खुश, तो जरुर ध्यान में रखे ये बात

 

सुरक्षा के लिए ये इंतजाम

 

संत रामपाल पर निर्णय आने के बाद सरकार किसी भी तरह की हिंसा और बवाल से बचने के लिए सुरक्षा के सख्त से सख्त इंतजाम किए हैं। जज और एडवोकेट हिसार जेल पहुंच चुके हैं। चूंकि जेल में ही सुनवाई होनी है। ऐसे में जेल को ही कोर्ट के रूप में तब्दील कर दिया गया है। रामपाल को भी कोर्ट में लाया जा चुका है। हिसार शरह पूरी तरह से सुरक्षा घेरेबंदी में है। कोर्ट के सभी तरफ करीब 3 किमी का सुरक्षा चक्रव्यूह बनाया गया है। यह सुरक्षा इतनी सख्त है कि इसे भेदना आसान नहीं होगा। कोई भी बाहरी व्यक्ति अंदर नहीं जा सकेगा।

 

यह भी पढ़ें...देश की जनता को नही बल्कि पूंजीपतियों को लाभ पहुचाने का काम कर रहे हैं मोदी:लोकदल

 

बनाए गए 12 नाके

 

सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम को लेकर हिसार के 1300 पुलिसकर्मी, दूसरे जिलों से 700 जवान, 5 कंपनियां RAF और 12 SP को सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसके साथ ही अन्य जिलो से डीएसपी की तैनाती भी की गई है।  15 अक्टूबर तक पुलिस यहां तैनात रहेगी।
पुलिस के अनुसार हिसार में 25 और बॉर्डर पर 12 नाके बनाये गये हैं। नाकों में तैनात सुरक्षाकर्मी संदिग्धों पर नजर रखेंगे।  

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी