शक्तिकांत बने आरबीआई के नये गवर्नर

Foto

भारत के समाचार/political news

नई दिल्ली। सरकार और आरबीआई के बीच चल रही तनातनी के बाद उर्जित पटेल के द्वारा गवर्नर पद से इस्तीफा देने से खाली हुए पद पर मोदी सरकार ने वित्तीय आयोग के सदस्य शक्तिकांत सिंह को नियुक्ति दी है। बता दें कि नोटबंदी में शक्तिकांत ने काफी अहम् भूमिका निभाई थी औश्र मोदी सरकार में उन्हे लगातार महात्वपूर्ण पदों पर तैनाती मिलती रही है।

गौरतलब है कि सेक्सन 6 को लेकर केंद्र सरकार और आरबीआई के बीच पिछले काफी समय से टकराव चल रहा था और कुछ समय पूर्व भी आरबीआई के तत्कालीन गवर्नर उर्जित पटेल के इस्तीफे की सुगबुगाहट हुई थी पर उस समय सरकार ने स्थिति संभाल ली थी पर सोमवार की शाम अचानक उर्जित पटेल सामने आये और अपने इस्तीफे का ऐलान कर दिया।

पटेल ने हालाकि इस्तीफे के पीछे निजीकारणों का हवाला दिया था पर ये साफ था कि उनके इस्तीफे के पीछे केंद्र सरकार के साथ उनकी तकरार थी। पटेल का इस्तीफा स्वीकार किये जाने में केंद्र सरकार ने बिलकुल देर नही लगायी जिससे ये भी झलक दिखी कि कहीं ना कहीं सरकार भी उन्हे हटाने के मूड मे थी।  दास 2015 से 2017 के बीच आर्थिक मामलों के सचिव रह चुके हैं और उन्होंने केंद्रीय बैंक के साथ काफी करीबी से काम किया है। फिलहाल वह वित्तीय आयोग के सदस्य हैं। 

सरकार ने शुरुआती तौर पर दास को वित्त मंत्रालय में राजस्व विभाग का नेतृत्व करने की जिम्मेदारी थी और बाद में उन्हें आर्थिक मामलों का सचिव बना दिया गया। बता दें कि पूर्व गवर्नर ऊर्जित पटेल के सोमवार को दिए अचानक इस्तीफे के बाद यह पद खाली हो गया था। 

पिछले साल,दास ने वैश्विक रेटिंग एजेंसियों की पद्धति की आलोचना की थी। दास ने मोदी सरकार और गठबंधन वाली कांग्रेस सरकार के नेतृत्व में बजट डिविजन में काम किया है। वह आरबीआई के 25वें गवर्नर होंगे।

यह भी पढ़ें:   SC का मीडिया को निर्देश, उजागर न करें रेप पीड़िता की पहचान

यह भी पढ़ें:     SC ने दी अरुण जेटली को राहत, जनहित याचिका की खारिज

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी