पीएम मोदी का वार, देश की जनता के खिलाफ है महागठबंधन

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

सिलवासा। 'ये महागठबंधन सिर्फ मोदी के खिलाफ ही नहीं, ये देश की जनता के खिलाफ हैं। कुछ लोग खुद को बचाने के लिए सहारा ढूंढ रहें है और मैं देश को आगे ले जाने के लिए सबका साथ - सबका विकास के मंत्र को लेकर निकल पड़ा हूं।' यह बातें प्रधानमंत्री मोदी ने दादरा और नगर हवेली में जनसभा के दौरान कही। 

विपक्ष की महारैली पर तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा, पश्चिम बंगाल में भाजपा का केवल एक विधायक हैं लेकिन वहां भाजपा के विरोध में देश के सारे दल इकट्ठा हो गए हैं, क्योंकि हम सत्य के मार्ग पर चलने वाले लोग हैं इसलिए हमारे एक विधायक से भी ये लोग डर गए हैं।

'सबका साथ-सबका विकास' के मंत्र फूंकते हुए पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार विकास की पंच धारा के लिए पूरी तरह समर्पित है। बच्चों को पढ़ाई, युवाओं को कमाई, बुजुर्गों को दवाई, किसानों को सिंचाई, जन-जन की सुनवाई यह हमारे लिए विकास का राजमार्ग है। 

दादरा और नगर हवेली की राजधानी सिलवासा में पीएम मोदी ने कहा, 'आज दमन-दीव और दादरा-नगर हवेली, दोनों केंद्र शासित प्रदेश खुद को खुले में शौच से मुक्त घोषित कर चुके हैं। आज यहां हर घर में LPG कनेक्शन है और आज यहां के सभी घरों में बिजली और पानी का कनेक्शन है।'

पीएम मोदी ने कहा कि दादरा व नगर हवेली और दमन व दीव को आजादी के बाद अपना पहला मेडिकल कॉलेज मिला है। इस मेडिकल कॉलेज में 150 सीटें शुरु हो रही हैं। मेडिकल शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सिलवासा में पैरामेडिकल की 250 और दमन में नर्सिंग की 50 सीटों की व्यवस्था की गई है। इस प्रयास से यहां की स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर बनाने में मदद मिलेगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारी सरकार द्वारा जितनी भी योजनाएं चलाई जा रही हैं उनके मूल में सबका साथ और सबका विकास है जबकि जिस दल ने दशकों तक देश में सरकार चलाई वो हर काम में अपनी या अपने परिवार की संभावनाएं देखता था और यही कारण है कि वहां काम से ज्यादा नाम पर जोर दिया गया। हमारी सरकार ने नाम की जगह काम पर ध्यान दिया हैं। इससे साफ पता चलता हैं कि हमारी नीयत देश के विकास की हैं एक परिवार के विकास की नहीं।

यह भी पढ़ें:  गुजरात : युद्ध टैंक पर पीएम मोदी हुए सवार, देश को मिली नई सौगात

यह भी पढ़ें:  पीएम मोदी ने ओडिशा को दी 1,550 करोड़ की सौगात

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी