'स्वच्छता ही सेवा आंदोलन' की हुई शुरुआत

Foto

India News / भारत समाचार

पीएम बोले- सब मिलकर इसे सफल बनाये

नई दिल्ली। 2 अक्टूबर को स्वच्छ भारत मिशन के 4 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'स्वच्छता ही सेवा अभियान' की शुरुआत की। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने देश भर के स्वच्छाग्रहियों से वीडियो कांफ्रेंस के ​जरिए सीधे संवाद किया। संवाद का आरंभ करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सवा सौ करोड़ देशवासी 'स्वच्छता ही संकल्प' को दोहराने जा रहे है। उन्होंने बताया​ कि स्वच्छता का कवरेज 40 फीसदी से बढ़कर 90 फीसदी हो गया है। बता दें कि 15 सितंबर से 2 अक्टूबर तक 'स्वच्छता ही सेवा' अभियान चलेगा।

यह भी पढ़ें: NACO ने कहा-भारत में 21.4 लाख लोग HIV से ग्रस्त

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि चार वर्ष पहले शुरु हुआ स्वच्छता आंदोलन अब एक महत्वपूर्ण पड़ाव पर आ पहुंचा है। साथ ही पीएम ने राष्ट्र के हर तबका, हर संप्रदाय, हर उम्र के लोगों से इस महाअभियान से जुड़ने का आग्रह किया। उन्होंने का कि गांव-गली-नुक्कड़-शहर, कोई भी इस अभियान से अछूता नहीं है। पीएम मोदी ने जानकारी दी कि 4 वर्षों में 450 से अधिक जिले और 20 राज्य व केंद्र शासित प्रदेश खुले में शौच से मुक्त हो गए है। 4 वर्षों में लगभग 4.5 लाख गांव खुले में शौच से मुक्त हो गए है। साथ ही 4 सालों में 9 करोड़ शौचालयों का निर्माण हुआ है। उन्होंने कहा कि सिर्फ शौचालय बनाने भर से भारत स्वच्छ नहीं हो जाएगा। टॉयलेट की सुविधा देना, कूड़ेदान की सुविधा देना, कूड़े के निस्तारण का प्रबंध करना, ये सभी सिर्फ माध्यम हैं।

यह भी पढ़ें: गगनयान से पहले जानवरों को अंतरिक्ष में नहीं भेजेगा इसरो

देश भर के स्वच्छाग्रहियों से संवाद करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अस्वच्छता, गंदगी विशेषतौर पर हमारे गरीब के जीवन को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाती है, उसे बीमारी के दलदल में धकेल देती है। डायरिया जैसी अनेक बीमारियों का सीधा संबंध गंदगी से है। ये बीमारियां लाखों जीवन हमसे छीन लेती हैं। उन्होंने कहा कि हमें इस बात का संतोष होना चाहिए कि स्वच्छ भारत अभियान के चलते डायरिया के मामलों में बहुत कमी आई है। इस दौरान सदी के महानायक अमिताभ बच्चन और उद्योगपति रतन टाटा ने स्वच्छ भारत मिशन से जुड़े अपने कई अनुभवों को साझा किया। 

यह भी पढ़ें: इंजीनियर्स डे पर गूगल ने डूडल बनाकर विश्वेश्वरैया को दी श्रद्धांजलि

इसके अलावा जम्मू-कश्मीर स्थित लेह से भारत-तिब्बत बॉर्डर पुलिस के बहादुर जवानों नें स्वच्छ भारत अभियान के अपने प्रयासों को आगे बढ़ाने की दिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपने विचार साझा किये। उन्होंने ITBP के जवानों को नमन किया और कहा कि आप सभी के बारे में जितना भी कहा जाए उतना कम है। देश को आपकी, सेना के जवानों की जहां भी ज़रूरत पड़ती है आप सबसे पहले हाज़िर रहते हैं। सीमा पर दुश्मनों से मोर्चा लेना हो, बाढ़ के संकट से निपटना हो, हर बार आपने देश को ऊपर रखा है। अब स्वच्छता के लिए आपका ये योगदान भी देश को गौरवान्वित कर रहा है।

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी