'हिन्दू पाकिस्तान' के बयान ने बढ़ाई थरूर की मुश्किल...कोर्ट ने कहा हाजिर हों 

Foto

India News / भारत के समाचार


कोलकाता की एक अदालत ने 14 अगस्त को पेश होने का दिया निर्देश 


नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर के 'हिन्दू पाकिस्तान' वाले बयान ने उनकी मुश्किलें बढ़ा दी है। कोलकाता के एक कोर्ट न उन्हें समन जारी कर 14 अगस्त को कोर्ट में पेश होने को कहा है। कोर्ट ने यह समन एडवोकेट सुमित चौधरी के उस केस पर दिया है जिसमें उन्होंने थरूर पर धार्मिक भावनाएं आहत करने और संविधान का अपमान करने का मामला दर्ज कराया था।

 

 यह भी पढ़ें - WTO में भारत ने चीन को चेताया...

 

दरअसल 11 जुलाई को केरल में आयो​जित एक कार्यक्रम में कांग्रेसी नेता शशि थरूर ने कहा कि अगर 2019 में बीजपेी जीतती है तो वह नया संविधान बनायेगी। यह संविधान हिन्दू अधिकारों वाला संविधान होगा। उन्होंने कहा था कि इससे भारत 'हिन्दू पाकिस्तान' बन जायेगा और लोकतांत्रिक संविधान खत्म हो जायेगा। उनके पास भारतीय संविधान को खत्म करने और एक नया संविधान लिखने के सारे तत्व मौजूद हैं।

 

यह भी पढ़ें - ‘भारत की बेशकीमती संपदा है सीमावर्ती जनसंख्या’

 

नया संविधान पूरी तरह से हिंदू राष्ट्र के सिद्धांतों पर आधारित होगा, जो अल्पसंख्यकों के अधिकारों को पूरी तरह से खत्म कर देगा और राष्ट्र को 'हिंदू पाकिस्तान' बना देगा। थरूर के इस बयान के बाद बीजेपी पलटवार करते हुए थरूर के इस बयान पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से माफी मांगने को कहा था। कहा था कि कांग्रेस भारत को नीचा दिखाने और हिंदूओं को बदनाम करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ती है। 'हिंदू-आतंकवाद' से लेकर 'हिंदू-पाकिस्तान' तक कांग्रेस की पाकिस्तान को खुश करने वाली नीतियों का कोई जवाब नहीं है।'

 

 

 

 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी