एक बार फिर टली राम मंदिर मामले की सुनवाई

Foto

भारत के समाचार/india news 

जस्टिस बोबड़े के उपलब्ध ना होने के कारण टली सुनवाई

नई दिल्‍ली। राम मंदिर निर्माण के लिए आस भरी नजरों से सुप्रीम कोर्ट की ओर देख रहे लोगों को एक बार फिर से निराशा हाथ लगी है,अभी हाल ही मे गठित की गयी संविधान पीठ के सामने 29 जनवरी को होने वाली सुनवाई पीठ के जस्टिस बोबड़े के ना उपलब्ध होने के कारण टल गयी है।  

गौरतलब है कि इससे पहले जस्टिस यूयू ललित के हटने और फिर पीठ के गठन में सुनवाई टल चुकी है। इस बार लोगों को पूरी उम्मीद थी कि इस बार सुनवाई की शुरुआत हो जायेगी। पर इस बार भी सुनवाई की शुरुआत नही हो पायेगी।

बता दें कि 25 जनवरी को सीजेआई रंजन गोगोई ने मंदिर निर्माण के लिए होने वाली सुनवाई के लिए बेंच का गठन किया था जिसमें खुद सीजेआई के अलावा जस्टिस बोबड़े,जस्टिस चन्द्रचूड़,अशोक भूषण व अब्दुल नजीर शामिल हैं।

पिछली बेंच में किसी मुस्लिम जस्टिस के ना होने पर भी कई पक्षों ने सवाल उठाये थे। मंदिर मामले के लिए पहले बनायी गयी बेंच पर मुस्लिम पक्ष के वकील के द्वारा जस्टिस यूयू ललित को लेकर भी सवाल उठाये गये थे जिसके बाद उन्होने खुद को पीठ से अलग कर लिया था।

जस्टिस ललिति के हटने के बाद सीजेआई ने नयी बेंच का गठन किया था। मंदिर मामले के लिए गठित की गयी नयी पीठ में शामिल किये गये जस्टिस भूषण व जस्टिस नजीर पूर्व सीजेआई दीपक मिश्रा के द्वारा ​गठित की गयी तीन सदस्यीय पीठ में भी शामिल थे जिसने अयोध्या केस की शुरुआती सुनवाई की थी।

यह भी पढ़ें:   देश को लूटने वाले हर व्यक्ति को करना होगा कानून का सामना:पीएम

यह भी पढ़ें:   आतंक की राह छोड़कर सैनिक बने थे लांस नायक नजीर अहमद वानी

 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी