जाने, क्या है आज का पंचाग !

Foto

Aaj Ka Panchang/आज का पंचाग 
मंगलवार का पंचांग

16 अप्रैल 2019

हनुमान जी का मंत्र : हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट् ।

।। आज का दिन मंगलमय हो ।।

अवश्य पढ़ें :- महाभारत के अनुशासन पर्व में स्त्रियों के बारे में बताई गई है महत्वपूर्ण बातें, जानिए स्त्रियों के बारे में महत्वपूर्ण बातें

दिन (वार) - मंगलवार के दिन क्षौरकर्म अर्थात बाल, दाढ़ी काटने या कटाने से उम्र कम होती है। अत: इस दिन बाल और दाढ़ी नहीं कटवाना चाहिए । मंगलवार को बजरंगबली की पूजा का विशेष महत्व है।

*विक्रम संवत् 2076 संवत्सर कीलक तदुपरि सौम्य 
*शक संवत - 1940 
*अयन - उत्तरायण 
*ऋतु - शरद ऋतु 
*मास - चैत्र माह 
*पक्ष - शुक्ल पक्ष

तिथि - द्वादशी 17 अप्रैल 01:26 तदुपरांत त्रयोदशी ।

तिथि का स्वामी - द्वादशी तिथि के स्वामी विष्णु है तथा त्रयोदशी तिथि के स्वामी कामदेव है ।

द्वादशी तिथि के स्वामी श्री हरि विष्णु जी हैं। द्वादशी को इनकी पूजा , अर्चना करने से मनुष्य को समस्त सुख और ऐश्वर्यों की प्राप्ति होती है, उसे समाज में सर्वत्र आदर मिलता है। इस दिन विष्णु सहस्रनाम का पाठ करना अत्यन्त श्रेयकर होता है। द्वादशी के दिन तुलसी तोड़ना निषिद्ध है। द्वादशी के दिन यात्रा नहीं करनी चाहिए, इस दिन यात्रा करने से धन हानि एवं असफलता की सम्भावना रहती है। द्वादशी के दिन मसूर का सेवन वर्जित है।

अवश्य जानिए :- इन उपायों को करके रोगों से मिलेगा छुटकारा, जानिए रोगों से छुटकारा पाने के उपाय

नक्षत्र - पूर्वाफाल्गुनी 17 अप्रैल 01:51 तदुपरांत उत्तराफाल्गुनी

नक्षत्र के देवता, ग्रह स्वामी-    पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र के देवता भग्र है एवं उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र के देवता अर्यमा है ।

योग- वृद्धि - 22:09

प्रथम करण : - बव - 14:56

द्वितीय करण : - बालव 17 अप्रैल 01:26

गुलिक काल : - दोपहर 12:00 से 01:30 तक है ।

दिशाशूल -मंगलवार को उत्तर दिशा का दिकशूल होता है । यात्रा, कार्यों में सफलता के लिए घर से गुड़ खाकर जाएँ ।

राहुकाल दिन - 3:00 से 4:30 तक।

सूर्योदय - प्रातः 05:46 

सूर्यास्त - सायं 06:27 

विशेष - द्वादशी को पोई का सेवन नहीं करना चाहिए ।

पर्व त्यौहार-

मुहूर्त - द्वादशी तिथि यात्रादि को छोड़कर सभी धार्मिक शुभ कार्य किये जा सकते हैं।

"हे आज की तिथि (तिथि के स्वामी), आज के वार, आज के नक्षत्र (नक्षत्र के देवता और नक्षत्र के ग्रह स्वामी ), आज के योग और आज के करण, आप इस पंचांग को सुनने और पढ़ने वाले जातक पर अपनी कृपा बनाए रखे, इनको जीवन के समस्त क्षेत्रो में सदैव हीं श्रेष्ठ सफलता प्राप्त हो "।

आप का आज का दिन अत्यंत मंगल दायक हो ।   

यह भी पढ़ें:   मोदी दो तरीके का हिन्दुस्तान बनाना चाहते हैं एक गरीबों का और दूसरा नीरव मोदी एवं विजय माल्या वाला हिन्दुस्तान, राहुल गांधी   

यह भी पढ़ें:   जयाप्रदा का नहीं देश की हर नारी का हुआ अपमान, केशव प्रसाद मौर्या    

 

    
            

leave a reply

पंचाग, Panchang

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी