अब देवी देवताओं को भी बाट रही है बीजेपी:मायावती

Foto

राजनीति के समाचार/political news

लखनऊ। बीजेपी ने पहले लोगों को जााति के आधार पर बांटा और अब वह देवी देवताओं को बाटने की कोशिश कर रही है। उक्त विचार आज बसपा सुप्रीमो मायावती ने बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर की 63 वीं पुण्यतिथि पर जारी बयान मे व्यक्त किये। बसपा प्रमुख ने कहा कि बाबा साहेब ने भारत के संविधान में एक वोट एक मूल्य की अवधारणा देकर समतामूलक समाज की कल्पना की थी पर केंद्र में बैठी बीजेपी उनके बनाये संविधान को ही फेल कर देना चाहती है।

पूर्व सीएम ने कहा कि आज देश का किसान बीजेपी सरकार की नीतियों से परेशान है यहां तक फसल बीमा योजना का असली लाभ किसानों को नही बल्कि कुछ अमीरों को मिल रहा है। उन्होने बीजेपी के द्वारा भागवान को लेकर दी गयी टिप्पणी पर भी आपात्ति जताते हुए कहा कि ये लोग अब भगवान को भी बाटने की कोशिश मे लगे हैं।

गौरतलब है कि सीएम योगी ने राजस्थान मे एक चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए हनुमान जी की जाति पर टिप्पणी की थी उसके बाद राजनीतिक हंगामा खड़ा हो गया था और राजधानी मे दलितो ने हनुमान मंदिर पर अपना अधिकार बताते हुए कब्जा कर लिया था और हनुमान मंदिर मे दलित पुजारी रखे जाने की मांग की थी।

सुप्रीमो मायावती ने बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की 63वीं पुण्यतिथि पर जारी किए गए बयान में हनुमान मंदिरों में दलित पुजारियों की मांग को लेकर भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा ने पहले जाति के आधार पर लोगों को बांटा और अब देवी-देवताओं को भी बांट रही हैं। मायावती ने यह बात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के उस बयान के संदर्भ में कही जिसमें उन्होंने (योगी ने) भगवान हनुमान को दलित समाज का बताया था।

योगी के हनुमान जी को दलित समाज का बताए जाने के बाद ही दलित समाज द्वारा हनुमान मंदिरों में दलित पुजारी रखने की मांग की जाने लगी। मायावती ने योगी के उसी बयान पर आज नियााना साधा। उन्होने कहा कि बीजेपी गलत नीतियों की वजह से चुनावी राज्यों में भी लोग उससे नाराज हैं वहां पर बसपा के प्रति लोगों मे उत्साह दिख रहा है।

यह भी पढ़ें:   बीजेपी सत्ता में आयी तो करीमनगर का नाम बदल देंगे:योगी

यह भी पढ़ें:   बुलंदशहर में हिंसा बीजेपी के ही ईशारे पर हुई है:आप

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी