अखिलेश चुप पर सपा ने माया को दिया ये जवाब

Foto

राजनीति के समाचार/political news

गठबंधन तोड़ने के बसपा प्रमुख के एलान पर की तीखी प्रतिक्रिया

लखनऊ। बुआ बबुआ की कुछ समय पुरानी दोस्ती को बुआ के द्वारा तोड़े जाने के बाद सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भले ही अभी तक कोई प्रतिक्रिया ना दी हो पर समाजवादी पार्टी की तरफ से जवाब दिया गया है।

समाजवादी पार्टी ने दावा किया कि बीएसपी प्रमुख मायावती ने जल्दबाजी में उनके साथ गठबंधन खत्म करने की घोषणा की क्योंकि दलित बड़े पैमाने पर अखिलेश यादव के साथ जुड़ रहे थे। मायावती ने सोमवार को ट्वीट के जरिये ये घोषणा की थी कि उनकी पार्टी भविष्य में अपने दम पर "छोटे और बड़े" सभी चुनाव लड़ेगी।

सपा के राष्ट्रीय महासचिव रमाशंकर विद्यार्थी ने कहा कि मायावती जल्दबाजी में सपा के खिलाफ इसलिए बोल रही है, क्योंकि सपा और उनके नेता अखिलेश यादव को दलितों का समर्थन मिल रहा है।

ऐसा करके वो सामाजिक न्याय की लड़ाई को कमजोर कर रही है। उन्होंने आगे कहा कि दलित समाजवादी पार्टी और उसके प्रमुख अखिलेश यादव के साथ जुड़ रहा है। लोग ये वास्तविकता जानते हैं कि मालकिन ने गठबंधन के साथ क्या किया हो।

मायावती ने सोमवार को अपने फैसले का ऐलान करते हुए कहा कि लोकसभा आमचुनाव के बाद सपा का व्यवहार बीएसपी को यह सोचने पर मजबूर करता है कि क्या ऐसा करके बीजेपी को आगे हरा पाना संभव होगा? जो संभव नहीं है। अतः पार्टी व मूवमेंट के हित में अब बीएसपी आगे होने वाले सभी छोटे-बड़े चुनाव अकेले अपने बूते पर ही लड़ेगी।

यह भी पढ़ें:    विपक्ष के हमले के बाद जानें क्या बोले पीएम

यह भी पढ़ें:    टप्पल जैसी घटना दोबारा न हो:योगी आदित्यनाथ

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी