अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आज पीएम मोदी का होगा भव्य स्वागत

Foto

 Political News/राजनीति के समाचार

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहली बार सोमवार आज को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी आएंगे। पीएम मोदी के आगमन के मद्देनजर जिला प्रशासन व स्थानीय भाजपा संगठन की ओर से तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन संग पीएम मोदी का पं दीनदयाल संकुल में कार्यकर्ता समागम का कार्यक्रम भी है, जिसमें उनका शाही स्वागत किया जाएगा। इसके लिए स्थानीय संगठन की ओर से सात क्विंटल माला-फूल का आर्डर दिया गया है। पुलिस लाइन से बांस फाटक तक अघोषित रोड शो होगा। पूरे रास्ते फूलों की बारिश होगी। 

रविवार को वाराणसी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वाराणसी आगमन की तैयारियों की जानकारी ली और सुरक्षा व्यवस्था पर विशेष जोर दिया। इस दौरान उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक कर विभिन्न दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद प्रधानमंत्री का उत्तर प्रदेश व काशी में पहला आगमन है। भव्यता से स्वागत हो। काशी आतिथ्य के लिए विश्व प्रसिद्ध भी है।योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वाराणसी भ्रमण कार्यक्रम स्थल बाबा श्री काशीविश्वनाथ धाम व बड़ालालपुर हस्तकला संकुल का स्थलीय निरीक्षण कर व्यवस्थाओं की भी जानकारी ली। 

प्राथमिक प्रोटोकाल के मुताबिक पीएम मोदी ज्ञानवापी द्वार के रास्ते बाबा दरबार में प्रवेश करेंगे। बाबा दरबार में दर्शन के बाद पीएम मोदी बड़ालालपुर स्थित पं. दीनदयाल उपाध्याय हस्तकला संकुल जाएंगे, जहां कार्यकर्ता समागम होना है। इस कार्यक्रम के माध्यम से वे सभी कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करेंगे।जिला प्रशासन को मिले प्रारंभिक प्रोटोकाल के तहत पीएम मोदी सुबह साढ़े नौ बजे लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे। करीब सुबह 10 बजे हेलीकाप्टर से पुलिस लाइन आने के बाद वे बाबा दरबार में दर्शन-पूजन के लिए सड़क मार्ग से रवाना होंगे। 

वहां से पुलिस लाइन लौटने के बाद सुबह 11 बजे पीएम मोदी का हेलीकाप्टर बड़ालालपुर स्थित पं. दीनदयाल उपाध्याय संकुल पहुंचेगा। जहां कार्यकर्ता समागम कार्यक्रम में करीब एक घंटे रहने के बाद वह दोपहर करीब सवा 12 बजे बाबतपुर एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को अपने वाराणसी दौरे के दौरान सर्किट हाउस सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक कर काशी में विकास कार्यों को युद्ध स्तर पर तेजी से गतिशील करने के निर्देश दिए। स्वच्छता पर विशेष फोकस करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि काशी में कहीं भी गंदगी नहीं दिखनी चाहिए। सार्वजनिक शौचालयों की बराबर सफाई होती रहे। यहां देश-विदेश से पर्यटक आता है। यहां की वातावरण का संदेश विश्व में जाता है। यातायात की सुदृढ़ व्यवस्था की जाए, ताकि जाम की स्थिति नहीं बने। 

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर के प्रगति की जानकारी ली।जिसे कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने विस्तार से बताया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़कों पर पेंट लाइन कराया करे। चूना डालने से धूल उड़ती है। जो ठीक नही हैं। आवारा पशुओं की उचित व्यवस्था करें। ताकि सड़कों पर घूमते नजर नहीं आए। काशी में विगत 5 वर्षों में रिकॉर्ड विकास कार्य हुए हैं और आमजन महसूस भी करता है। देश-विदेश में काशी के विकास कार्यों की ख्याति फैली है। इसका परिणाम दिख रहा है कि यहां भारी संख्या में पर्यटक का आगमन बड़ा है।

यह भी पढें   मुस्लिम महिला ने अपने बच्चे का नाम नरेंद्र मोदी रखा, जानें क्यों रखा पीएम मोदी का नाम   

यह भी पढें   अमेठी पहुंचीं स्मृति ईरानी, सुरेंद्र सिंह की अर्थी को दिया कंधा, इस परिवार की जिम्मेदारी अब मेरी 

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी