आराक्षण बिल सरकार का चुनावी स्टंट:रामगोपाल

Foto

राजनीति के समाचार/political news

राज्यसभा में सपा सांसद ने सरकार को घेरा

नई दिल्‍ली। सामान्य वर्ग को आराक्षण में कोई बुराई नही है मगर सरकार को इसकी याद चुनाव के वक्त क्यों आयी,चार साल पहले यह आराक्षण क्यो नही लाया गया। यह सिर्फ चुनावी स्टंट है जिसका लाभ लेने का प्रयास किया जा रहा है। उक्त बाते सपा के महासचिव रामगोपाल यादव ने राज्यसभा में आराक्षण बिल का समर्थन करते हुए व्यक्त किये।सपा सांसद ने सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि 98 फीसदी गरीब सवर्णो को 10 फीसदी आरक्षण देने की बात हो रही है जबकि दो फीसदी अमीर सवर्णो को 40 फीसदी आराक्षण दिया जा रहा है ये न्याय नही है।

सपा सांसद ने राज्यसभा मे आराक्षण बिल पर बोलते हुए कहा कि बिना मानसिकता बदले नतीजे नही मिलने वाले हैं। बता दें कि मंगलवार को लोकसभा मे पारित होने के बाद आराक्षण बिल राज्यसभा में पेश किया गया।

दोपहर दो बजे राज्यसभा में इस बिल पर चर्चा शुरु हुई। बीजेपी सांसद प्रभात झा ने कहा कि लंबे समय से आर्थिक आधार पर आराक्षण दिये जाने की मांग उठ रही थी और पीएम मोदी ने अगड़ों की चिंता करते हुए ये बिल पेश किया है और निश्चित रुप से इसका लाभ जरुरतमंदों तक पंहुचेगा।

उन्होने कहा कि केंद्र सरकार लगातार गरीबों के हित के लिए काम कर रही है और पीएम ने यह फैसला राष्ट्रहित में लिया है। उन्होने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि सदन में अन्य मुद्दे उठाने वाले लोग भी इस आर्थिक आराक्षण बिल पर बोलने की हिम्मत दिखायें। 

यह भी पढ़ें:   चुनाव के समय आराक्षण के बहाने सरकार फिर खेल रही है कम्युनल कार्ड

यह भी पढ़ें:    जब सीबीआई ने नाम नही लिया तो क्यो डर रहें हैं:सिद्धार्थनाथ

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी