अयोध्या में राम मन्दिर ही बनेगा बाबर की इमारत नही:केशव

Foto

राजनीति के समाचार/political news

कहा कि मामला कोर्ट में है और फैसले का इंतजार है

गोरखपुर। अयोध्या में भव्य राम मन्दिर का निर्माण होगा वहां पर कोई बाबर की इमारत नही बनेगी,यह हर व्यक्ति जानता है मामला कोर्ट में है और अब वहां पर सुनवाई शुरू होने वाली है हर राम भक्त अनुकूल परिणाम पाने का इंतजार कर रहा है। उक्त विचार सूबे के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने गोरखपुर में आयोजित बीजेपी अनुसूचित जनजाति मोर्चा के कार्यक्रम में व्यक्त किये।

देश में राम मन्दिर पर छिड़ी बहस में शुक्रवार को प्रदेश के डिप्टी सीएम भी कूद पड़े। केशव ने कहा कि हर कोई राम मन्दिर का निर्माण चाहता है और हम भी यही चाहते हैं चूंकि यह मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में है इसलिए यह नही कहा जा सकता कि मन्दिर का निर्माण कब और कितने दिनों में होगा।

उन्होने कहा कि कोर्ट 29 अक्टूबर से नियमित रूप से सुनवाई करेगा और पूरी उम्मीद है कि राम मन्दिर पर राम भक्तों को खुश खबरी मिलेगी। शिवसेना प्रमुख उद्व ठाकरे के अयोध्या आने के सवाल पर केशव प्रसाद ने कहा कि रामभक्त होने के नाते कोई भी कभी रामलला के दर्शन कर सकता है इसमें कोई विशेष बात नही है।

राहुल गांधी के द्वारा सीबीआई को लेकर लगाये जा रहे आरोपों के सवाल पर उन्होने कहा कि कांग्रेस जब से सत्ता से बेदखल हुई उसकी बेचैनी बढ़ गयी है और बेचैनी में ही वे इस तरह की तथ्यहीन बाते कर रहे हैं।

उन्होने कहा कि पूरी दुनिया में सबसे ईमानदार सरकार का नेतृत्व नेरंद्र मोदी कर रहे हैं और उसमें जो कोई भी गलत करेगा उस पर वे कार्यवाई करेंगे। उन्होने कहा कि पूरे देश का विश्वास पीएम मोदी पर है ओर वह उनके साथ है जबकि राहुल को भी पता है कि पूरे देश का अविश्वास कांग्रेस पर है।

उन्होने कहा कि पीएम मोदी ने जो भी निर्णय लिया है वह देशहित में है और भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए है। उन्होने कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस सिर्फ पूरे देश में झूठ फैलाने का काम कर रही है और लोग भी उसके झूठ को समझ रहे हैं।

यह भी पढ़ें:   OMG: कैमरे में कैद हुआ बसपा उम्मीदवार का घिनौना कांड, पार्टी में मचा हड़कंप

यह भी पढ़ें:   जब से सीबीआई का सीबीआई से झगड़ा हुआ है तब से हम दो रोटी ज्यादा खाने लगे हैं:...

यह भी पढ़ें:   मै बीजेपी की आईटम गर्ल हूं:आजम

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी