बदजुबानी पर चुनाव आयोग का एक्शन, किस नेता पर है कितने घटें की रोक, जाने !

Foto

Political News/राजनीति के समाचार 

 

लखनऊ। देश में इन दिनों लोकसभा के चुनाव अपनी चरम पर है ऐसे में नेताओं की बदजुबानी कोई बड़ी बात नहीं आए दिन देश में कहीं न कहीं किसी न किसी कोने से कोई न कोई नेता चुनाव प्रचार के दौरान अपना आपा खोकर बदजुबानी करते नजर आ रहे हैं। लोकसभा 2019 के चुनाव प्रचार में लगातार नेताओं के विवादित बयान देने का सिलसिला लगातार जारी है। 

योगी, माया और कई दिग्गजों के खिलाफ चुनाव आयोग का एक्शन 

इस बीच चुनाव आयोग ने एक और बड़ा फैसला लिया है। चुनाव आयोग ने आजम खान के चुनावी प्रचार पर 72 घंटे और मेनका गांधी के चुनाव प्रचार पर 48 घंटे का बैन लगाया है। बता दें कि आजम खान ने रामपुर से बीजेपी प्रत्याशी और अभिनेत्री जयाप्रदा को लेकर अभद्र टिप्पणी की थी। वहीं मेनका गांधी ने समुदाय विशेष को लेकर बयान दिया था। आयोग के फैसले के मुताबिक आजम खान कल सुबह 10 बजे अगले 72 घंटों के लिए न तो चुनाव प्रचार, न रोड शो या कोई इंटरव्यू नहीं दे पाएंगे। ठीक इसी तरह मेनका गांधी भी कल सुबह 6 बजे से अगले 48 घंटे के लिए चुनाव प्रचार, रोड शो या कोई इंटरव्यू नहीं दे सकती।

चुनाव आयोग उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और बीएसपी प्रमुख मायावती पर भी बदजुबानी के लिए बैन लगा चुका है। मायावती ने 7 अप्रैल को देवबंद में मुस्लिम समाज से वोट मांगा था। वहीं योगी आदित्यनाथ ने 9 अप्रैल को सहारनपुर में अली और बजरंग बली पर टिप्पणी की थी। बता दें कि 18 अप्रैल को यूपी की 8 सीटों पर चुनाव होने हैं।  

वहीं कल देर शाम यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस कर अपनी नाराजगी चुनाव आयोग पर जाहिर की और कहा कि चुनाव आयोग ने मेरे खिलाफ एक्शन लिया पर आयोग ने एक्शन लेने के पूर्व मेरा पक्ष नहीं लिया है। 
 

यह भी पढ़ें:     आजम खान  का बयान महिला सम्मान पर प्रहार, दर्शना सिंह  

यह भी पढ़ें:     भाजपा कर रही जूतों की राजनीति: अनिल दुबे

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी