भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ का सम्मेलन, वित्त मंत्री हुए शामिल

Foto

राजनीति के समाचार/political news

 

उबैद खान

हरदोई। अग्रवाल धर्मशाला में बीजेपी व्यापार प्रकोष्ठ की ओर से व्यापारी सम्मेलन आयोजित किया। मुख्य अतिथि के रुप में प्रदेश सरकार के वित्त मंत्री और हरदोई के सदर विधायक नितिन अग्रवाल के अलावा भारी संख्या में व्यापारियों ने भाग लिया। इस दौरान नितिन अग्रवाल और वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने विपक्षियों पर तीखे प्रहार किए। नितिन अग्रवाल ने अखिलेश यादव को बहन जी के चरणों में गठबंधन करने के लिए बैठने की बात कह दी। वहीं, अभिनंदन की वापसी पर सवाल उठाने वाले विपक्षियों को देशद्रोही कहते हुए पैसे निकालने की भी बात कह डाली। इस दौरान मुख्य अतिथि के रुप में पहुंचे वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने पीएम मोदी और सीएम योगी को जलजला की उपाधि दे डाली। उन्होंने कहा कि विपक्षी मोदी के डर से गठबंधन रूपी छप्पर पर सवार हैं। 

 

उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव 5 साल उनकी सरकार उत्तर प्रदेश में रही। बड़ा गाना गाया कि हमने एक्सप्रेसवे बना दिया, एंबुलेंस चला दी दिया। इतना ही भरोसा आपको अपने कामों पर था तो बहन जी के चरणों में आपको पड़ने की क्या आवश्यकता थी।  कहा बहन जी गठबंधन कर लो। गठबंधन नहीं करोगी तो हमारा यूपी में सफाया हो जाएगा। गलतफहमी हो गई जो अखिलेश यादव अपने पिता और चाचा का ना हुआ, वह प्रदेश की जनता का कैसे हो सकता है। अखिलेश यादव क्या व्यापारी बंधुओं का हो सकता है। 


उन्होंने कहा कि बहन जी भी वह भी भूल गई कि नेता जी की सरकार में उनके साथ क्या हुआ था। चलिए कोई बात नहीं आप तो भूल गई, लेकिन जनता नहीं भूलती है। यह तो नापाक गठबंधन उन्होंने उत्तर प्रदेश में किया है। केवल इसलिए गठबंधन किया है कि पीएम मोदी को देश की सत्ता से हटा देंगे। यह बहुत बड़ी गलतफहमी है। वाले चुनाव में इनकी गलतफहमी दूर हो जाएगी। क्योंकि देश की जनता जानती है कि उनका हित कहीं सुरक्षित है, तो भारतीय जनता पार्टी में। भारतीय जनता पार्टी एक ऐसी पार्टी है जो व्यापारी हितों के लिए काम करती है और काम किया है। 

 

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी और सीएम मोदी योगी का जलजला है। जब जलजला आता है, तो प्रकृति ने कहा है कि छप्पर बहता हुआ जाता है। उस छप्पर पर मनुष्य और ब्रत्तियां भी होती हैं, जो एक दूसरे को काट खाने को दौड़ती हैं। इसी जलजले के कारण पीएम मोदी जी के डर के कारण यह जितने भी विरोधी दल है यह एक होने का प्रयास कर रहे हैं। सोचते हैं मारकर खा जाएंगे और मन में राम बगल में छुरी इसके अलावा और कुछ नहीं है। 

उन्होंने कहा कि कूटनीति नीति ना कोई लिखा पढ़ी की ना कोई फोन किया ना किसी से कहा कि हमारे अभिनंदन को वापस भेजो। उसके बाद हमने देखा कि 60 घंटे के अंदर अंतरराष्ट्रीय स्थिति में जब पहले भारत के प्रधानमंत्री जाते आते थे लोग उनको शायद पहले पूछते तक नहीं थे। बिना कुछ लिखा पढ़ी के बिना किसी टेलीफोन के और 60 घंटे के अंदर विश्व के सारे बड़े राष्ट्रों ने पाकिस्तान के ऊपर जो प्रेशर बनाया पाक ने अभिनंदन को रिहा कर दिया। भारतीय जनता पार्टी का ये यश विरोधियों को पता नहीं है।  उन्होंने कहा कि महाकुंभ हुआ व्यवस्थाएं पता लगती हैं। आपको पता होगी कि वहां पर हमारे मुख्यमंत्री और कैबिनेट ने जाकर स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया है। खुद साफ सफाई की है। लगभग 23-24 करोड़ लोग कुंभ में स्नान करने के लिए गए। सबने अपने जीवन को सफल बनाया है। यह सारी व्यवस्थाएं पीएम मोदी जी के मन से निकली है।

 

 

यह भी पढ़ें:   लोकलाज त्याग कर बीजेपी ने अधिसूचना से पहले जमकर बांटी रेवड़ियां:मायावती

यह भी पढ़ें:    मैने किसी को कोई धमकी नही दी:साक्षी महाराज

 

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी