सीबीआई का गलत इस्तेमाल हो रहा है:राजभर

Foto

राजनीति के समाचार/political news

मेरठ। अवैध खनन मामले में सीबीआई जांच के निशाने पर आ रहे सपा प्रमुख अखिलेश यादव के बचाव में योगी सरकार के विरोशी स्वर मुखर करने वाले कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर  भी आ गये हैं। मेरठ में विभागीय समीक्षा करने पंहुचे राजभर ने कहा कि हमीरपुर अवैध खनन सीबीआई का गलत इस्तेमाल किया गया है। उन्होने कहा कि जैसे ही सपा बसपा का गठबंधन हुआ सीबीआई सक्रिय हो गयी। कैबिनेट मंत्री ने सवाल उठाया कि ढाई साल से सीबीआई क्या कर रही थी?

लोकसभा में परित हुए सामान्य वर्ग के दस फीसदी आराक्षण के बिल को सही बताते हुए राजभर ने कहा कि हम इस बात से सहमत हैं लेकिन आर्थिक आधार पर हर जाति के गरीबों को आराक्षण दिया जाये। मंत्री ने कहा कि हम यही बात 16 सालों से कह रहे हैं।

राजभर मेरठ के सर्किट हाउस में आयोजित समीक्षा बैठक में हिस्सा लेने पंहुचे थे। उन्होने सीबीआई को लेकर केंद्र मे मची खीेंचतान पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछली सरकार के समय सुप्रीम कोर्ट ने बयान में सीबीआई को पिछड़े का तोता बताया था।

अब रात के दो बजे सीबीआई के डायरेक्टर को पद से हटाया जा रहा है सवाल उठता है कि इसका क्या औचित्य है। महिला सशक्तिकरण पर सरकार की योजनाओं पर कैबिनेट मंत्री ने तंज कसते हुए कहा कि यह सब हवा हवाई बाते हैं।

राम मंदिर के मुद्दे पर राजभर ने कहा कि बीजेपी को सिर्फ चुनाव के समय ही रा मंदिर की याद आती है। उन्होने एक बार फिर से बीजेपी को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर सौ दिन में पिछड़ा वर्ग आराक्षण का विभाजन नही किया गया तो सुभासपा  प्रदेश की सभी 80 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी। राजभर ने केंद्र सरकार के सामान्य आराक्षण बिल पर कहा कि सवर्णो को आराक्षण एक दिन में दे दिया जाता है पर पिछड़ी जातियों के आराक्षण के भीतर आराक्षण पर फैसला नही किया जाता है। 

यह भी पढ़ें:   चुनाव के समय आराक्षण के बहाने सरकार फिर खेल रही है कम्युनल कार्ड

यह भी पढ़ें:    दलित नही देगा गठबंधन को वोट:कौशल किशोर

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी