दिल्ली की सरकार क्या करती है उसके मंत्री ही नही जानते:यशवंत

Foto

राजनीति के समाचार/political news

यूपी और बिहार हो जायेगी सम्पूर्ण सफाई:अखिलेश,सपा कार्यालय पंहुचे बीजेपी के बागी सांसद शत्रुघन सिन्हा और पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा

लखनऊ। बीजेपी के बागी नेता व सांसद शत्रुघन सिन्हा व पूर्व मंत्री यशवंत सिन्हा गुरूवार को अचानक सपा कार्यालय पंहुचे और केंद्र सरकार और मोदी पर जमकर हमला बोला। यशवंत ने कहा कि ये समय है दुर्योधन व दुशासन से लड़ने का,अगर मिलकर लड़े तो 1977 वाली जीत मिलेगी। अटल सरकार में मंत्री रहे पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा ने कहा कि वे अपने को सौभाग्यशाली मानते हैं कि उन्हे जयप्रकाश,चन्द्रशेखर व मुलायम जैसे दिग्गजों के साथ काम करने का मौका मिला।

सपा कार्यालय पंहुचे बीजेपी के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा और बागी सांसद शत्रुघन सिन्हा का स्वागत खुद सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने किया,सपा कार्यालय में गुरूवार को लोकनारायण जय प्रकाश का जयंती समारोह आयोजित किया गया था। दोनों नेताओं ने सपा प्रमुख की जमकर सराहना की।

 

यह भी पढ़ें:   सपा का मुकाबला न कांग्रेस कर सकती है और न बीजेपी-अखिलेश

 

शत्रुघन सिन्हा ने कहा कि यूपी से ही केंद्र की दिशा दशा तय होती है और यूपी में अखिलेश जैसे युवा नेता हैं जिन पर सिर्फ प्रदेश को नही बल्कि देश को भरोसा है उन्हाने कहा कि वो शेर नेता है,बीजेपी और मोदी पर अपने अंदाज में हमला बोलते हुए कहा कि खोखले भाषणों से देश नही चलता है,नोटबंदी का फैसला पार्टी का नही था क्योकि अगर पार्टी का होता तो उसके नेताओं को पता होता ये सिर्फ दो लोगों का फैसला था।

उन्होने कहा कि सपा सरकार में जो विकास कार्य शुरू किये गये थे उसे बीजेपी सरकार ने सत्ता में आने के बाद रोक दिया और सिर्फ जााति गत राजनीति की जा रही है। उन्होने कहा कि योगी राज में कानून व्यवस्था की हालत क्या है इसका अंदाजा इसी लगाया जा सकता है कि जिन्हे रक्षा करनी चाहिए वही निर्दोषों की हत्या कर रहे हैं और जांच के नाम पर सिर्फ लीपापोती की जा रही है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने कहा कि मोदी सरकार में खुद मंत्रियों की नही चल रही है वहां पर सिर्फ और सिर्फ दो लोगों की तानाशाही चल रही है ये देश का दुर्भाग्य है। उन्होने कहा कि देश में नोट बंदी हुई तो उसकी जानकारी देश के वित्तमंत्री को नही थी और यही हाल विदेश मंत्री का है

पीएम विदेश दौरों पर उन्हे भेजना और अपने साथ ले जाना भी जरूरी नही समझते हैं इसलिए वे बेचारी सिर्फ ट्वीट करने वाली मंत्री बन गयी हैं। यही हाल देश की रक्षामंत्री का है राफेल पर जहां पूरे देश में बवाल मचा हुआ है वहीं रक्षामंत्री को राफेल डील की पूरी जानकारी नही है वे सिर्फ इस गोलमोल जवाब देकर बचने का प्रयास करती हैं।

 

यह भी पढ़ें:   देश की जनता को नही बल्कि पूंजीपतियों को लाभ पहुचाने का काम कर रहे हैं...

 

सपा कार्यालय पर सपा प्रमुख की उपस्थिति में पंहुचे इन दोनो दिग्गजों से सपा संरक्षक ने दूरी बनाये रखी और वे सपा कार्यालय नही पंहुचे। यशवंत सिन्हा ने कहा कि मुलायम का देश की राजनीति में बड़ा कद है और वे सौभाग्यशाली हैं जो उन्हे उनके साथ काम करने का मौका मिला। यशवंत ने कहा कि हमारी लड़ाई दिल्ली में भष्ट्राचार की सरकार से है और हमे मिलकार यह लड़ाई लड़नी है।

अगर मिलकर लड़े तो एतिहासिक जीत मिलेगी। दोनो नेताओं ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव की जमकर सराहना की और कहा कि यूपी में बीजेपी को टक्कर देने की ताकत सिर्फ अखिलेश में ही है।

 

यह भी पढ़ें:   अपनी पार्टी बनायेंगे राजा भैया, चुनाव आयोग में किया आवेदन

 

शत्रुघन सिन्हा ने कहा कि यहां पर अखिलेश तैयार हो चुका है और बिहार में तेजस्वी तैयार है मै युवा पीढ़ियों को तैयार कर रहा हूं। पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि दोनो वरिष्ठ नेताओं ने जो भरोसा हम पर दिखाया है उस पर खरा उतरने का प्रयास करूंगा। उन्होने कहा कि जिस प्रदेश का मुख्यमंत्री कहता हो ठोंक दो वहां पर लोग कैसे सुरक्षित महसूस कर सकते हैं। उन्होने कहा कि इन दोनो दिग्गज नेताओं ने ऊर्जा बढ़ दी है और मै वादा करता हूं कि यूपी और बिहार से सम्पूर्ण सफाई हो जायेगी।

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी