मेनका के बिगड़े बोल, वोटरों से कहा- जितना वोट उतना ही विकास

Foto

Political News/ राजनीति के समाचार 

सुल्तानपुर। लोकसभा चुनावी जंग में नेता क्या बात बोल जा रहे, उनको खुद ही यह पता नहीं है। वैसे तो पार्टी के नेता आपस में एक दूसरे को चेताते रहे हैं। लेकिन केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने वोटरों को ही चेतावनी दे डाली। उनके इस बयान के बाद वोटरों में भी खासा नाराजगी देखने को मिल रही है। वोटरों का ​कहना है कि उनके भरोसे ही वह राज सुख भोग रहीं और उन्हीं को चेतावनी दे रहीं। 

दरअसल, बीजेपी प्रत्याशी व कैबिनेट मंत्री मेनका गांधी सुल्तानपुर स्थित इसौली विधानसभा क्षेत्र के रसूलपुर में कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करने पहुंची थी। उन्होंने कहा कि जितना आप वोट डालोगे उतना ही विकास आपका वह करेंगी। यही नहीं मेनका ने वोटों के प्रतिशत से विकास कार्य का मानक भी बनाकर वोटरों को बताया। उन्होंने चुनाव जीतने के बाद विकास कार्य और वोटिंग प्रतिशत की तुलना की। चार भागों  ए, बी, सी व डी में बांटा।

मेनका ने कहा कि 80 फीसदी वोट जहां से जनता के पड़ेंगे। वह एक श्रेणी में इलाके आएंगे। वहीं, 60 फीसदी वोट डालने वाले स्थानों में बी श्रेणी दिया। 50 फीसदी पड़ने पर सी और इससे कम वोटिंग होने पर डी श्रेणी में आएगा। इस तरह मेनका ने खाका बनाते हुए वोटरों से कहा कि ए श्रेणी के स्थानों का विकास कार्य सबसे पहले कराया जाएगा। इसी तरह आगे के वोटिंग प्रतिशत मिलने वाले इलाकों का विकास कार्य होगा।साथ ही विवादित बयान देने के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं को मेहनत से जुटे रहने को कहा।

मेनका ने कहा कि सभी को मेरा मोबाइल नंबर दें। जिससे लोग उनसे सीधे बात कर सकें। यही नहीं वोटरों से यह सवाल भी दागा कि क्या उनकी ये राय सही नहीं है। उन्होंने कहा कि उनकी ये जीत आपके बिना और आपके साथ दोनों ही परिस्थितियों में होगी। चुनावों के परिणाम आने के बाद वोटिंग प्रतिशत निकाला जाएगा। जो लोग उनके हैं, तो उनके ही बनकर रहें। जब वह चुनाव जीतकर आएंगी तो उन्हीं के पास मदद के लिए पहुंचेंगे। 

यह भी पढ़ें: भाजपा में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति का पार्टी में स्वागत, महेन्द्र नाथ पाण्डेय 

यह भी पढ़ें: आजम खां का विवादित बयान, सियासत में भूचाल

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी