छोला भटूरा खाकर अनशन पर बैठे ये नेता

Foto

नई दिल्ली। देश में सत्तासीन बीजेपी द्वारा संप्रादा​यिकता फैलाने का आरोप लगाते हुए राष्टव्यापी अनशन व धरने का ऐलान करने वाली कांग्रेस दोपहर होते होते अपने ही नेताओं की शर्मसार करने वाली हरकत से घिर गयी,दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जैसे ही राजघाट पर अनशन की शुरूआत की उसके थोड़ी देर बाद ही सोशल मीडिया पर उसके वरिष्ठ नेताओं की छोला भटूरा खाते हुए फोटो चलनी शुरू हो गयी I 

हद तो तब हो गयी जब इस फोटो में मौजूद एक नेता ने यह कह डाला कि अनशन दस बजे से था और फोटो आठ बजे की है मतलब राष्टीय अध्यक्ष के आदेश का खुलेआम मजाक। अब देखना है कि कांग्रेस नेतृत्व इन जिम्मेदार नेताओं के खिलाफ क्या कार्यवाई करता है।

नेताओं की  दलितों पर अत्याचार के मुद्दे पर बड़े जोर-शोर से आज एक दिन का उपवास करने वाली कांग्रेस के नेता बुरे फंस गए हैं. उनकी एक तस्वीर सामने आ गई है जिसमें दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन, हारुन यूसुफ और अरविंदर सिंह लवली छोले-भटूरे खाते हुए देखे जा रहे हैं. तस्वीर आने के बाद अरविंद सिंह लवली ने बड़ी अजीब सफाई दी है कि उपवास तो 10 बजे से था ये तस्वीर तो सुबह 8 बजे की है. हालांकि इस खबर के सामने आने के बाद कांग्रेस नेता बगले झांकते हुए नजर आए हैं। 

वहीं कई लोग ये भी सवाल उठा रहे हैं कि जब उपवास का समय 10 बजे से निर्धारित था तो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पौने एक बजे के करीब राजघाट क्यों पहुंचे कुल मिलाकर कांग्रेस का ये देशव्यापी उपवास अब विवादों में घिरता नजर आ रहा है इससे पहले राजघाट में ही राहुल के पहुंचने से पहले कांग्रेस नेता जगदीश टाइटलर और सज्जन कुमार के मंच पर पहुंच जाने से भी बवाल हो गया।

गौरतलब है कि आज कांग्रेस दलितों पर अत्याचार, संसद न चलने देने और सांप्रदायिक सौहार्द के मुद्दे पर पूरे देश में अनशन कर रही है अशोक गहलोत की तरफ से पार्टी के सभी प्रदेश अध्यक्षों, एआईसीसी महासचिवों/प्रभारियों और विधायक दल के नेताओं के भेजे गए दिशा निर्देश में कहा गया है कि सांप्रदायिक सौहार्द को बचाने और बढ़ाने के लिए सभी राज्यों और जिलों के कांग्रेस मुख्यालयों में 9 अप्रैल को उपवास रखा जाए I 

वहीं बीते शुक्रवार को बीजेपी संसदीय दल की बैठक में फैसला लिया गया कि बीजेपी सांसदों से कहा कि वे कांग्रेस की विभेदकारी नीतियों के खिलाफ 12 तारीख़ को उपवास रखें. दलितों के मामले में जिस तरह के तूल पकड़ा और भारत बंद के दौरान जो हिंसा हुई उसके पीछे बीजेपी विपक्ष को ज़िम्मेदार ठहरा रही है जाहिर है कांग्रेस और बीजेपी दोनों उपवास के ज़रिए अपने अपने तरीक़े से दलितों के हक़ में खड़ा दिखने की कोशिश कर रही है।

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी