रालोद प्रदेश अध्यक्ष ने पीएम मोदी पर बोला हमला

Foto

State News / राज्य समाचार

 

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 मसूद अहमद ने कहा कि विपक्षी दलों के एक मंच पर आने और भाजपा की कार्यशैली की कलई खुलने से देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नींद उड गयी है। विपक्षी दलों के गठबंधन को नरेन्द्र मोदी भ्रष्टाचार का गठबंधन कहकर स्वयं अपनी खिल्ली उड़ाने का काम कर रहे हैं। क्योंकि जब विपक्ष में थे तो उन्होंने भी गठबंधन किया था और उसी गठबंधन के लोग इनकी कार्यषैली के कारण ही एक एक करके भाजपा का साथ छोड रहे हैं जिससे स्पष्ट होता है कि इन्होंने स्वयं भ्रष्टाचार करने के लिए गठबंधन बनाया था। 
    

नवयुवकों को धोखा

 

डाॅ. अहमद ने कहा कि लोकसभा चुनाव की घोषणा तक इनके वे सभी घटक दल साथ छोड जायेंगे जो भ्रष्टाचार में लिप्त नहीं हैं। हमारे सम्पूर्ण गठबंधन ने सत्ता से भाजपा को उखाड फेकने के लिए निःस्वार्थ भाव से कदम बढाया है, क्योंकि भाजपा सरकारों ने देश के किसानों, मजदूरों और कामगारों के साथ साथ बेरोजगार नवयुवकों को धोखा दिया है। किसानों की जितनी आत्महत्याएं भाजपा शासन में हुयी उतनी देष के इतिहास में कभी नहीं हुयी।

 

दो करोड़ रोजगार

 

नोटबंदी के समय हजारों कारखाने बंद हो गये। जिससे लाखों मजदूर और कामगार बेकार हो गये और अपने परिवार की रोजी रोटी चलाने के लिए काम की तलाश में दर दर भटकने लगे। बेरोजगार नवयुवकों को दो करोड़ रोजगार प्रतिवर्ष देने का वादा करने वाले प्रधानमंत्री बेरोजगारों को पकौड़ा बेचने का पाठ पढा रहे हैं। इस प्रकार देश के कोने कोने में त्राहिमाम त्राहिमाम सुनने को मिल रहा है। रालोद प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि देश की जनता ने गठबंधन को वोट देकर भाजपा को सत्ता से बाहर करने का संकल्प कर लिया है।

 

गठबंधन से खुश


जिसका प्रमाण उत्तर प्रदेश में विगत 3 लोकसभा और 1 विधान सभा के सम्पन्न हुये उपचुनावों तथा एक माह पूर्व सम्पन्न हुए विधानसभा चुनावों से मिलता है। देश की जनता सम्पूर्ण विपक्षी दलों के गठबंधन से प्रसन्न है। क्योंकि उसमें चौ चरण सिंह के सपनों का भारत बनने के आसार नजर आ रहे है। अगली लोकसभा पूंजीपतियों की न होकर किसानों, मजदूरों और बेरोजगारों की होगी। 
    

यह भी पढ़ें: माइनर की खंदी कटने से हजारों बीघा फसल जलमग्न

 

यह भी पढ़ें: जेल में बंद गायत्री की भी बढ़ सकती हैं मुश्किलें

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी