सपा-बसपा और आरएलडी का मजबूत गठबंधन है, बीजेपी सरकारों के पास कोई काम नही है

Foto

Political News/राजनीति के समाचार

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखीमपुर खीरी के राजकीय इंटरकालेज मैदान में समाजवादी पार्टी की लोकसभा प्रत्याशी पूर्वी वर्मा, धौरहरा से प्रत्याशी अरशद सिद्दीकी, निघासन उपचुनाव प्रत्याशी मो कय्यूम के अतिरिक्त सीतापुर से बहुजन समाज पार्टी के लोकसभा प्रत्याशी नकुल दुबे के पक्ष में बजेहरा मैदान, महमूदाबाद में चुनावी सभा कर इन सभी प्रत्याशियों को भारी मतों से जिताने की जनता से अपील की। 
     
अखिलेश यादव ने कहा है कि आज देश के संविधान को खतरा है। राजनीति के स्तर में भारी गिरावट दिख रही है। भाजपा नया भारत बनाने का झूठा सपना दिखा रही है। लेकिन देश को जब नया प्रधानमंत्री और नयी सरकार मिलेगी तभी नया भारत बनेगा। राजनीति में नई दिशा देनेवाला समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल का मजबूत गठबंधन है। हमारा गठबंधन दिलों का है यह टूटने वाला नहीं है। यह लम्बे समय तक चलेगा। उन्होंने कहा कि भाजपा के पांच साल केन्द्र के और 2 साल राज्य सरकार के कामों का हिसाब किताब भी लेने का समय आ गया है। भाजपा को इसकी विफलताओं के लिए सबक सिखाना है। 
      
अखिलेश यादव ने कहा कि जैसे-जैसे चुनाव बढ़ रहा है, महागठबंधन के पक्ष में वोटों की बारिश हो रही है। भाजपा सरकारों के पास कोई काम नही है वे हमारे कामों के उद्घाटन का उद्घाटन और शिलान्यास का शिलान्यास करने के कारण गर्मियों में चुनाव कराकर लोगों को, पत्रकारों को परेशान कर रहे हैं। उन्होंने पूछा कि हमारे तीन दलों के गठबंधन को महामिलावट कहा जा रहा है किन्तु जो 38 दलों के साथ गठबंधन किए हुए हैं वे बतायें उनका गठबंधन महामिलावटी है कि नही? समाजवादी पार्टी का  गठबंधन उन गरीबों का गठबंधन है जिन्हें सम्मान नहीं मिला है।
      
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि अन्नदाता किसान की आत्मा खेती है। प्रधानमंत्री जी ने किसानों की आय दुगनी करने, डेढ़ गुना ज्यादा लागत मूल्य देने आदि के वादे किए थे। उनके खाद की बोरी से 5 किलो खाद की चोरी कर कम कर दिया। हमें ऐसा चैकीदार नहीं चाहिए जो बड़े-बड़े उद्योगपतियों को देश के बाहर भाग जाने दे। बैंकों से 36,000 से ज्यादा उद्योगपति ऋण लेकर भारत छोड़कर चले गए। न कालाधन वापस आया और नहीं भ्रष्टाचार पर रोक लगी। 
      
उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार ने बीमारों के लिए 108 एम्बुलेंस सेवा, प्रसूताओं के लिए 102 एम्बूलेंस सेवा, महिलाओं की सुरक्षा के लिए 1090 सेवा, अपराध नियंत्रण के लिए यूपी डायल 100 सेवा शुरू की थी। गरीब महिलाओं की मदद के लिए समाजवादी पेंशन देना शुरू किया था। फिर सरकार बनने पर अब उन्हें 3 हजार रू0 मासिक पेंशन मिलेगी। भाजपा सरकार ने समाजवादी सरकार के विकासकार्यों को बर्बाद कर दिया। 
      
यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि किसान का बेटा ही सीमा की सुरक्षा करता है। हमारे फौजी जवानों की वजह से देश सुरक्षित है, भाजपा सरकार की वजह से नहीं। भाजपा की दो करोड़ नौकरियां देने का वादा झूठा निकला। भाजपा की नोटबंदी से अर्थव्यवस्था पीछे जा रही है। 45 साल में सबसे ज्यादा बेकारी हुई है। गैस सिलेण्डरों का वजन कम कर दिया गया इसे 80 प्रतिशत लाभार्थी फिर नहीं भरा पाए। शौचालयों में पानी नहीं है। भाजपा नेता शौचालय से बात शुरू कर शौचालय पर ही अपनी बात खत्म करते हैं। 
      
अखिलेश यादव ने कहा कि देश की राजनीति में नए लोगों के आने से नया भारत बनेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपनी पार्टी को खड़ा करना चाहती है। उसको 2022 की चिंता है। आज देश के समक्ष चुनौती सन् 2019 की है। केन्द्र की सरकार बदलनी है। महागठबंधन ही महापरिवर्तन लाएगा। इसकी रफ्तार बढ़ेगी और ‘साथी‘-समाजवादी पार्टी की साइकिल और बहुजन समाज पार्टी के हाथी निशान पर एक-एक वोट पड़ेगा।        
      
अखिलेश यादव ने बजेहरा, सीतापुर की सभा में नकुल दुबे के पक्ष में चुनावी सभा में कहा कि जातिगणना हो जाने पर सबको आबादी के अनुपात में भागीदारी मिलेगी। यही सामाजिक न्याय का आधार है। सोचिए भाजपा के राज में किसके अच्छे दिन आए है? नौजवानों का भविष्य अंधकारमय है। स्वच्छ भारत के नाम पर ठगा गया है। मुख्यमंत्री की ठोको नीति के चलते कहीं पुलिस ने जनता को तो कहीं जनता ने पुलिस को ही ठोंकने का काम शुरू कर दिया है। उन्होंने जनता से हाथी और साइकिल वाले बटन दबाकर चुनाव में गठबंधन प्रत्याशियों को जिताने की अपील की।  

यह भी पढ़ें    मायावती जानती है कि बसपा का जनाधार खत्म हो चुका है,डॉ महेन्द्र नाथ पाण्डेय   

यह भी पढ़ें   अखिलेश यादव की नीतियों से प्रभावित होकर सपा ज्वाइन किया  

 

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी