शीला दीक्षित ने संभाली दिल्ली की कमान

Foto

राजनीति के समाचार/political news

कहा आप से गठबंधन पर अभी कोई फैसला नही

नई दिल्ली। तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने वाली कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शीला दीक्षित ने बुधवार को दिल्ली के कांग्रेस अध्यक्ष पद की कुर्सी संभाल ली। कांग्रेस और आप के बीच गठबंधन को लेकर इस दिग्गज नेता ने कहा कि अभी इस पर कोई फैसला नही लिया गया है। उन्होने कहा कि वर्तमान समय में राजनीति काफी चुनौती भरी है और उसी के हिसाब से रणनीति तैयार की जायेगी।

 दिल्ली की पूर्व सीएम ने कहा कि दिल्ली की राजनीति में हमारे लिए बीजेपी और आप दोनो चुनौती हैं और हम मिलकर चुनौतियों का सामना करेंगे। आप के साथ  गठबंधन को लेकर नव नियुक्त अध्यक्ष ने कहा कि अभी इस पर कुछ भी नही हुआ है।

कांग्रेस ने 2015 में दिल्ली में चुनाव के बाद पूर्व कंद्रीय मंत्री अजय माकन को दिल्ली की कमान सौंपी थी पर उनको लेकर संगठन में उपजे अंदरुनी विवाद के बाद माकन को स्वास्थ्य संबधी दिक्कते भी आ गयीं थीं जिसके बाद माकन ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था।

जिसके बाद से दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष का पद खाली चल रहा था। कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी ने दिल्ली की कमान एक बार फिर से सधे हुए हाथ मे दे दी है। शीला दीक्षित को दिल्ली की राजनीति का काफी ज्ञान है और वे राज्य की नस नस से वाकिफ हैं और ऐसा माना जा रहा है कि वे दिल्ली में कांग्रेस के समीकरण बदलने की दम रखती हैं। बता दें कि आप के साथ गठबंधन को लेकर पूर्व अध्यक्ष माकन ने विरोध किया था और वे अकेले ही चुनाव लड़ने के पक्ष में थे।

ये भी पढ़ें:   योगी सरकार को 'आप' सांसद की चेतावनी, मुकद्दमा वापस नहीं लिया तो देंगे धरना

ये भी पढ़ें:    कर्नाटक : मुश्किल में कुमारस्वामी की सरकार

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी