massiar-banner

शिवपाल का बड़ा तंज : रावण मरा भी और लंका जली भी...

Foto

राजनीति के समाचार

मैं दो साल तक शांत था, नेता जी के कहने पर मोर्चे का गठन किया

अब मेरे कदम पीछे हटने वाले नहीं हैं

75 जिलों में जल्द बनाए जाएंगे अध्यक्ष

 

लखनऊ। बात है तो निकलेगी जरुर, कहल से उपजा समाजवादी सेक्यूलर मोर्चा अब आकार लेने लगा है। तंज का दौर चला तो भतीजा ही निशाने पर था भले ही प्रसंग रामायण का रहा हो। शिवपाल ने कहा, रावण ने तमाम जुर्म किए लेकिन राम शांत थे, रावण को अमरत्व का वरदान था लेकिन अंत में राम से हार गया। रावण मारा भी गया और लंका राख हो गई। यह वह प्रसंग था जिसने परोक्ष रूप से भतीजे को लक्ष्य कर कहा गया। दरअसल अदावत इस चरम पर है कि सपा को हराना है और इसके लिए कुछ करने को तैयार हैं।

 

यह भी पढ़ें : राहुल बाबा मुंगेरीलाल के हसीन सपने देखना छोड़िएः अमित शाह

 

शिवपाल यादव मंगलवार को राजधानी लखनऊ के बौद्ध संस्थान में श्री कृष्ण वाहिनी सामाजिक संगठन के कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि मौजूद थे। इस दौरान उन्होंने इटावा से सांसद रधुराज शाक्य और कमाल यूसुफ खान को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि युसुफ कमाल हमेशा से हमारे साथ थे, पहले लोहिया जी फिर नेता जी और अब मेरे साथ हैं।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शिवपाल यादव ने कहा कि अब इटावा मेरा क्षेत्र नही रहा अब तो नेता जी  जहां से हैं वही मेरा स्थान है। नेता जी हमारी पार्टी के अध्यक्ष होंगे और उन्ही की अगुवाई में हमारा मोर्चा आगे बढ़ेगा। उन्होंने उस राज का भी खुलासा किया कि मोर्चे का गठन नेता जी के कहने पर हुआ। इसके पहले वह दो साल से शांत थे, सुलह की सारी सीमाएं समाप्त होने का बाद आज हम मोर्चे के साथ हैं।

 

 

कार्यक्रम के दौरान शिवपाल ने अपने नेपाल यात्रा का अनुभव भी साझा किया। उन्होंने कहा कि मैं यदुवंशी के कार्यक्रम मे नेपाल गया जहां मुझे  बहुत सम्मान मिला। नेपाल पिछड़ा हुआ है, लेकिन हमारा पड़ोसी है, लोहिया जी ने कहा था कि पड़ोसी देश से अच्छे संबंध होने चाहिए।

इस दौरान उन्होंने तंज किया कि भगवान राम मर्यादा पुरुषोत्तम थे जब रावण जुर्म कर रहा था तो भगवान राम शांत थे। भले ही रावण को कई वरदान प्राप्त थे उसके बावजूद वो भगवान राम से हार गया क्योंकि सत्य पर चलने वाला हमेशा जीतता है। आप देखो की कैसे रावण मरा भी और उसकी लंका भी जली। आज कई घरों में कंस पैदा हो रहे है। जब कोई सत्य पर नही चलता तो उसका क्या होता है वो मरता है फिर रावण हो या कंस सत्य की राह पर नही चला और आप देखो क्या हुआ।

 

यह भी पढ़ें : नेताजी का अर्शीवाद हमारे साथ है:शिवपाल

 

शिवपाल ने कहा कि हमारे सेक्युलर मोर्चा का उद्देश्य है कि समाजिक न्याय और परिवर्तन आये मैं बहुत जल्द सेक्युलर मोर्चे को संगठन बनाने वाला हूं पूरे 75 जिलों मे इस संगठन के जिलाध्यक्ष जिला प्रमुख बनायें जाएंगे। उत्तर प्रदेश की तस्वीर बदलनी है गरीब मजलूम लोगो के लिए मैंने सोच समझ के ये कदम बढ़ाया है अब ये कदम पीछे नही हटेंगे मैंने 2 साल इंतजार किया है। नेता जी का आर्शावाद लेकर मैंने ये कदम बढ़ाया है।

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी