सुषमा स्वराज ने दिया राहुल गांधी को करारा जवाब

Foto


राजनीति के समाचार/political news


लखनऊ। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शुक्रवार को तमाम विरोधियों पर कूटनीतिक विफलता के आरोपों पर जमकर प्रहार किया है। उन्होंने स्पष्ट किया कि आतंकी सरगना मसूद अजहर के मामले में कांग्रेस सरकार अलग थलग थी। लेकिन वर्तमान में दुनियाभर से समर्थन मिल रहा है।

आतंकी गुट जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने में चीन के वीटो के मुद्दे पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पिछले दिन ही यह आरोप लगाया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति से डरे हुए हैं।
विदेश मंत्री ने कहा कि मैंने इन तथ्यों को साझा किया है ताकि जो नेता मसूद अजहर मामले में वर्तमान सरकार की राजनयिक विफलता बता रहे हैं, वे स्वयं देख लें कि साल 2009 में भारत अकेला था। सुषमा स्वराज ने कहा कि आतंकी सरगना मसूद अजहर को वै​श्विक आतंकी घोषित करने के मामले में चार बार प्रस्ताव बढ़ाए गए हैं।

पिछली सरकार को तमाम देशों का समर्थन नहीं था, उन देशों में कई अब भारत का साथ दे रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र प्रतिबंध समिति के तहत सूची बद्ध करने के मामले में सुषमा स्वराज का एक  ट्वीट आया है। इसके वह आकड़े भी देश की जनता के लिए दिए हैं, जो राहुल गांधी को जवाब के रूप में हैं। 2009 में भारत संप्रग सरकार के तहत अकेला प्रस्तावक था।

2016 में सह प्रायोजकों में अमेरिका, फ्रांस और अमेरिका शामिल थे। 2017 में अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने प्रस्ताव आगे बढ़ाया था। 2019 में प्रस्ताव को अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने आगे बढ़ाया और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के 15 में से 14 सदस्यों ने इसका समर्थन किया। यह आकड़े बता रहे हैं कि सभी देशों का समर्थन मिला सिवाय चीन ने इसमें साथ नहीं दिया। 

यह भी पढ़ें:   अखिलेश जी जरा सपाईयों के कारनामों पर भी बोल दिया करिये:बीजेपी

यह भी पढ़ें:   भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ का सम्मेलन, वित्त मंत्री हुए शामिल

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी