विपक्ष के दावों को आयोग ने किया खारिज, सुरक्षित हैं सभी ईवीएम, चुनाव आयोग

Foto

 

राजनीति के समाचार 

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले ईवीएम को लेकर खड़े विवाद को राजनीतिक दलों के नेताओं के द्वारा ईवीएम स्ट्रॉन्ग रूम की सुरक्षा पर सवाल उठाते हुए छेड़छाड़ की कोशिश का दावा कर रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष प्रियंका गांधी, राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव, मनीष सिसोदिया समेत कई नेताओं ने स्ट्रॉन्ग रूम (जहां वोटिंग के बाद ईवीएम रखे गए हैं) पर निगरानी रखने के लिए कार्यकर्ताओं से अपील की है।

सभी ईवीएम सुरक्षित, चुनाव आयोग  

वहीं दूसरी ओर चुनाव आयोग ने विपक्षी दलों के दावों को खारिज किया है। चुनाव आयोग ने कहा, गाजीपुर, चंदौली, डुमरियागंज और झांसी में ईवीएम को लेकर जो आरोप लगाए गए वो सही नहीं हैं। जिन ईवीएम का मतदान में इस्तेमाल हुआ है वो पूरी तरह सुरक्षित हैं। गाजीपुर प्रशासन ने भी महागठबंधन के उम्मीदवार अफजाल अंसारी के दावों को खारिज किया है। गाजीपुर प्रशासन ने ट्वीट कर कहा, 'ईवीएम को लेकर आशंकाएं निराधार हैं।

ईवीएम चौबीसों घंटे सीआईएसएफ की कड़ी सुरक्षा में है, उम्मीदवारों को स्ट्रॉन्ग रूम की निगरानी के लिए अपने एजेंटों को रखने की अनुमति दी गई है।' इस ट्वीट को चुनाव आयोग ने रिट्वीट किया है।

उधर भारतीय जनता पार्टी और एनडीए ने भी इसे विपक्ष की हताशा करार दिया। भाजपा के वरिष्ठ नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि ये हार तय देखकर ऐसा कर रहे हैं। मोदी को गाली देते देते अब चुनाव आयोग और ईवीएम को गाली देने लगे हैं।   

यह भी पढें  ब्रिटिश सरकार भारत से आने वाले यात्रियों के लिए लैंडिंग कार्ड भरने की अनिवार्यता की समाप्त

यह भी पढें  एग्जिट पोल के बाद लगातार दूसरे दिन बाजार में बढ़त

leave a reply

राजनीति के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी