नौवें गुरु श्री गुरु तेग बहादुर साहिब जी का शहीदी पर्व 12 दिसंबर को  

Foto

धर्म, Dharm


लखनऊ।  ऐतिहासिक गुरुद्वारा श्री गुरु तेग बहादुर साहिब जी यहियागंज में सिखों के नौवें गुरु श्री गुरु तेग बहादुर साहिब जी का शहीदी पर्व 12 दिसंबर को बड़ी श्रद्धा एवं सत्कार से मनाया जा रहा है। 

दो दिवसीय कार्यक्रम की शुरुआत आज शाम को 7:00 बजे रहिरास साहब जी के पाठ से हुई। इसके पश्चात श्री दरबार साहिब अमृतसर से आए रागी भाई दविंदर सिंह जी एवं रागी भाई जुझार सिंह जी ने संगतों को शबद कीर्तन द्वारा निहाल किया। इसके पश्चात कथा वाचक ज्ञानी रंजीत सिंह गोहर ने गुरु महाराज की शहादत पर प्रकाश डालेगें ।

गुरु तेग बहादर साहिब जी ने बिहार, बंगाल, आसाम, उड़ीसा, बंगलादेष, उत्तर प्रदेश  आदि प्रान्तों की यात्रा की। श्री गुरू तेग बहादुर साहिब जी आसाम से वापस अनन्दपुर साहब (पंजाब) जाते वक्त बनारस अयोध्या  के रास्ते लखनऊ में सन 1670ई0 में  इस ऐतिहासिक  गुरूद्वारा श्री गुरू तेग बहादर साहिब जी, यहियागंज लखनऊ (भाई गुरूदित्ता जी जो उदासी मत के संचालक थे ) 

 

 

उन्होंने सन् 1670 से पूर्व ही इस स्थान की स्थापना की थी जब श्री गुरू तेग बहादर साहिब जी इस स्थान पर पहुचे तो यहां की देख रेख भाई संगतीय बाला जी के पास थी। गुरू जी के आगमन पर संगतीय बाला जी एवं लखनऊ की संगत ने गुरू जी का स्वागत किया।

इस अवसर पर पालकी साहिब को सफेद फूलों से सजाया गया था एवं गुरुद्वारा साहब के द्वार पर गेट बनाया गया है।  जिसे सफेद फूलों से सजाया गया है । कल कार्यक्रम की शुरुआत प्रातः 4:00 बजे से होगी।

इस अवसर पर प्रातः 5:30 बजे यूथ खालसा एसोसिएशन की अगुवाई मे संगते प्रभातफेरी के रूप में   नाका हिंडोला गुरद्वारा से प्रात 5:00 बजे चलकर 6:30 बजे गुरुद्वारा यहियागंज पहुंचेगी।

 

 

इस अवसर पर डॉक्टर अमरजोत सिंह एवं लायंस परमजीत सिंह जग्गी के नेतृत्व में ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन किया गया है। सचिव मनमोहन सिंह ने बताया कि गुरु साहिब की शहीदी  के वक्त 11:00 बजे श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के ऊपर के फूलों की वर्षा होगी

गुरुद्वारा सचिव मनमोहन सिंह हैप्पी ने बताया इस अवसर पर विशेष रूप से शाम को दरबार सजेगा एवं देर रात समाप्ति होगी सुबह से शाम तक गुरु का लंगर वितरित किया जाएगा। 

 

leave a reply

धर्म

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी