massiar-banner

पाना चाहते हैं नरक से मुक्ति तो जरूर करें यह पूजा

Foto

धर्म 

 

लखनऊ| आज नरक चतुर्दशी यानी की छोटी दिवाली का त्योहार हैं। धनतेरस के दूसरे दिन और दीपावली के एक दिन पहले छोटी दीवाली यानी कि नरक चतुर्दशी का त्योहार मनाया जाता हैं। दिवाली के एक दिन पहले आने वाले इस त्योहार के दिन दीप दान किया जाता हैं।
वही इस दिन घर के द्वार पर दीपक जलाए जाते हैं। इसलिए इसे छोटी दिवाली भी कहा जाता हैं। छोटी दिवाली के दिन यम देवता की पूजा की जाती हैं। मान्यता हैं,कि यम देवता की पूजा करके लोग अपने परिवार वालों के लिए नरक से मुक्ति की कामना करते हैं। हम आपको बताते हैं,कि इस दिन किस तरह से पूजा की जाती हैं।

 

नरक चतुर्दशी आज: यहां जानिए पूजन का शुभ मुहूर्त और पूरी विधि. के लिए इमेज परिणाम

 

 

 

जानिए पूजा के लिए शुभ मुहूर्त क्या हैं-

आपको बता दें कि इस बार पूजा के लिए तीन शुभ मुहूर्त हैं..

सुबह: 9 बजकर 32 मिनट से 11 बजकर 45 मिनट तक
दोपहर: 12 बजकर 05 मिनट से 1 बजकर 22 मिनट तक
शाम: 5 बजकर 40 मिनट से 7 बजकर 05 मिनट तक

नरक चतुर्दशी पूजन- 

नरक चतुर्दशी पर सुबह तेल लगाकर चिचड़ी पत्तियां, चिचड़ी चमत्कारी पौधा पानी में डालकर स्नान करने से नरक से मुक्ति मिल जाती हैं। इस मौके पर 'दरिद्रता जा लक्ष्मी आ' कह कर घर
की महिलाएं घर से गंदगी को बाहर निकालती हैं।

 

 

संबंधित इमेज

 

 

जानिए नरक चतुर्दशी पूजन-विधि- 

वही इस दिन सुबह उठकर सबसे पहले नहा धोकर कर सूर्य भगवान को अर्घ्य दें और संभव हो तो तिल का तेल लगान के बाद नहाएं।इस दिन शरीर पर चंदन का लेप लगाकर नहाने और फिर भगवान श्री कृष्ण की उपासना करने का भी विधान होता हैं।वही शाम के वक्त घर की दहलीज पर दीप जलाएं और यम देव की पूजा जरूर करें।वही इस दिन नरक चौदस के दिन भगवान हनुमान जी की पूजा भी की जाती हैं।
 

leave a reply

धर्म

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी