massiar-banner

शान से विराजेंगे गजानन, इस तरह की जा रही है गणेश चतुर्थी की तैयारी

Foto

धर्म 


आदेश यादव

 फर्रुखाबाद |  विघ्नहर्ता की पूजा करने से सुख, शांति और समृद्धि प्राप्त होती हैI  और मुसीबतों से छुटकारा मिलता है। अगर इस दिन की पूजा सही समय और मुहुर्त पर की जाए तो हर मनोकामना की पूर्ति होती है। फर्रुखाबाद में गणेश चतुर्थी पर रिद्धि-सिद्धि के दाता विघ्नहर्ता गणपति गजानन पूरी शान से विराजेंगे।

 

गणेश चतुर्थी, के लिए इमेज परिणाम

 

 

राजस्थान के कलाकार प्रथम देवता गणेश की प्रतिमाओं को पूरे भाव से तैयार करने में जुटे हैं। छोटी मूर्ति से लेकर 12 फीट तक की प्रतिमाओं को बनाकर उनमें आकर्षक रंग भरे जा रहे है| प्रशासन ने भी विघ्नहर्ता की पूजा के लिए पूरी तैयारी कर ली है।

 

गणेश चतुर्थी, के लिए इमेज परिणाम

 

 

यह भी पढ़ें :  शर्मनाकः यहां वृद्धाश्रम के वृद्धों से मंगाते हैं 'भीख' फिर जमकर पीते हैं...

 

आवास विकास तिराहे से नेकपुर के बीच राजस्थानी मूर्तिकार इस समय गजानन की मूर्तियों को अनुपम छटा देने में जुटे हैं। शुभ माने जाने वाले रंगों से प्रतिमाओं की सजावट की जा रही है। गणेश पांडालों में स्थापित की जाने वाली प्रतिमाओं को बड़े रूप में बनाया गया है। सड़क किनारे लगी प्रतिमाएं लोगों का मन मोह रही हैं।

 

 

 

यह भी पढ़ें : गोरखपुर की 'मुस्कान' को मिसेज इण्डिया का ताज

 

मूर्तियों को तैयार करने में राजस्थानी परिवारों की महिलाएं और बच्चे भी हाथ बंटा रहे है| मूर्तिकारों का कहना है कि मूर्ति तैयार करने में लगने वाले कच्चे माल की कीमतों में बढ़ोत्तरी हुई है। दो सौ रुपये से लेकर 12 हजार रुपये लागत में प्रतिमाएं तैयार हो रही हैं। गणेश चतुर्थी के कुछ दिन ही रह जाने से ग्राहक भी आने लगे हैं। मूर्ती को रंग करने में इको फ्रेंडली रंगों का प्रयोग किया जा रहा है

 

गणेश चतुर्थी,  के लिए इमेज परिणाम

 

 

और जूट, प्लास्टर ऑफ़ पेरिस, खड़िया और बांस के ढांचे से मूर्ती तैयार की जा रही है| गणपति को खुश करने के लिए भक्तों ने सुंदर से सुन्दर मूर्ती को बनाने का आर्डर पहले से बुक कराया हुआ है |शहर में लगभग 200 स्थानों पर भगवान गणेश  विराजमान होंगे|

 

 

leave a reply

धर्म

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी