विश्व में 2 लाख 40 हजार नये घरों में एक साथ होगा गायत्री यज्ञ 

Foto

धार्मिक समाचार/ Religious news

गायत्री परिवार का अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर विशेष धर्मानुष्ठान

लखनऊ। अखिल विश्व गायत्री परिवार के प्रमुख डॉ. प्रणव पड्या, शैलबाला पड्या एवं डॉ. चिन्मय पण्ड्या द्वारा अखिल विश्व गायत्री परिवार के संस्थापक युगऋषि, वेदमूर्ति, तपोनिष्ठ, पं. श्रीराम शर्मा आचार्य के महानिर्वाण दिवस पर पूरे विश्व में एक साथ प्रात 9ः00 बजे से 12ः00 बजे के मध्य 2 लाख 40 हजार घरों में एक साथ गायत्री यज्ञ करने की घोषणा की गयी है।

गायत्री परिवार के मीडिया प्रभारी उमानंद शर्मा ने बताया कि पूरे विश्व में जहाँ पर गायत्री परिवार की शाखायें हैं उन शाखाओं के प्रमुखों द्वारा उपरोक्त अध्यात्मिक अनुष्ठान को सम्पादित करने का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। 
श्री शर्मा ने बताया कि गायत्री परिवार के संस्थापक युगऋषि पं. श्रीराम शर्मा आचार्य, ने यह उद्घोष किया है कि ‘भारत पुनः विश्वगुरू बनेगा’, यज्ञ, त्याग परमार्थ का देवता है।

मानव जीवन को त्याग परमार्थ जीवन जीने की शिक्षा प्रेरणा देता है, गायत्री, मंत्र सद्बुद्धि का मंत्र है मानव को उच्च कोटि का चिंतन, राष्ट्र सर्वोपरि सोच, पीड़ा पतन की सेवा सहायता करने का चिंतन, सन्मार्ग पर चलने का आत्मबल प्रदान करता है। यह प्रयोग राष्ट्र कुण्डलनी जागरण अनुष्ठान कहा जा सकता है, चूंकि हर वर्ष यह संख्या दुगनी होगी, वंदनीया माता भगवती देवी शर्मा जन्मशताब्दी वर्ष 2026 में एक करोड घरों में एक साथ गायत्री यज्ञ होगा।

श्री शर्मा ने बताया इस क्रम में राजधानी लखनऊ में गायत्री परिवार के समस्त कार्यकर्ता इस अभियान को घर-घर पहुँचाने के लिए संकल्पित हैं, इस कार्यक्रम को सम्पादित कराने हेतु 9 जोन क्रमशः गोमती नगर, इन्दिरा नगर, अलीगंज, ठाकुरगंज, राजाजीपुरम, आलमबाग, मध्य क्षेत्र, नीलमथा, सीतापुर रोड, साउथ सिटी के केन्द्र प्रभारी अपने क्षेत्रों में सम्पर्क कर इस कार्य को आगे बढ़ा रहे हैं, लखनऊ के उपरोक्त क्षेत्रों के कार्यक्रम में सर्वश्री अरविन्द निगम, के.के. भारद्वाज, सुरेन्द्र सिंह, एस.के. श्रीवास्तव, अमरनाथ दुबे, अशोक द्विवेदी, अनिल तिवारी द्वारा कार्यक्रम का संयोजन किया जा रहा है।

श्री शर्मा ने बताया उपरोक्त गायत्री यज्ञ सरलता से सम्पादित हो सके इसके लिए ऐप, वाट्सएप, मोबाईल पण्डित, फेसबुक एवं गायत्री परिवार का समाचार पत्र पाक्षिक प्रज्ञा अभियान के माध्यम से जन-जन को जानकारी बराबर दी जा रही है और लखनऊ के सभी केन्द्रों यज्ञ करने के सरल तरीके सिखाये भी जा रहे हैं।

श्री रामकथा दृढ़ संकल्प, शक्ति और सामर्थ की शिक्षा देती है, स्वामी चिदानन्द...

पवित्र कैलाश मानसरोवर बनेगा विश्व धरोहर, यूनेस्को की मिली मंजूरी

leave a reply

धर्म

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी