अमृतसर ब्लास्ट पर बोले सीएम अमरिंदर - '72 घंटे में केस सुलझा लिया गया'

Foto

State News / राज्य समाचार

अमृतसर। पंजाब के अमृतसर ​स्थित निरंकारी भवन में रविवार (18 नवंबर) को हुए ग्रेनेड हमले में जांच एजेंसियों को पहली सफलता मिली है। हमले के आरोप में एक युवक को गिरफ्तार किया गया है जबकि दूसरे की तलाश जारी है। इसकी जानकारी मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दी।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बताया​ कि गिरफ्तार युवक का नाम बिक्रमजीत सिंह है। दूसरे आरोपी का नाम अवतार सिंह है जिसकी तलाश जारी है। सीएम ने इस घटना को आतंकी घटना करार दिया। उन्होंने बताया कि इससे पहले भी सरकार के पास सूचना आई थी कि निरंकारी समुदाय को निशाना बनाया जा सकता है। इसके बाद सरकार ने मुनासिब कदम भी उठाए थे जिसके कारण पहले होने वाले हमलों को रोका गया था।

पंजाब सीएम ने कहा था कि प्रथम दृष्टि में लगता है कि यह अलगाववादी ताकतों की आतंकवादी गतिविधि है जिसे आईएसआई समर्थित खालिस्तान या कश्मीरी आतंकवादी समूहों की भागीदारी से अंजाम दिया गया। साथ ही उन्होंने कहा ​था कि उनकी सरकार ने इस घटना को गंभीरता से लिया है और राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) भी जांच सहयोग कर रही है।

बता दें कि रविवार को बाइक पर सवार दो लोगों ने एक धार्मिक समागम में ग्रेनेड फेंका था। इस विस्फोट में एक उपदेशक सहित तीन लोगों की मौत हो गई थी जबकि 20 से अधिक लोग घायल हो गए थे।

यह भी पढ़ें: अमृतसर : धार्मिक सभा में विस्फोट, तीन की मौत, कई घायल  

यह भी पढ़ें: लोहिया आवास में प्रधान ने किया गोलमाल, गरीबों के लाखों रुपए डकारे

leave a reply

राज्यों के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी