बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर परिनिर्वाण दिवस की पूर्व संध्या पर निकाला गया मसाल जुलुस

Foto

राज्यों के समाचार /States News

आशीष कुमार

गोरखपुर|  आज अम्बेडकर नगर में  परिनिर्वाण दिवस के  पूर्व संध्या पर संविधान बचाओ मशाल यात्रा निकाली गयी। इस यात्रा की अध्यक्षता पूर्वांचल सेना द्वारा की गई।पूर्वांचल सेना के तत्वाधान में संविधान बचाओ मसाल यात्रा निकाली गयी इस जुलुस में काफी संख्या में लोगो की भीड़ देखने को मिली ।इस दौरान भीड़ में मौजूद लोगों ने  जय भीम, बाबा साहेब अमर रहे के नारे लगाए। जुलुस गोरखपुर विश्वविद्यालय से शुरू हो कर छात्र संघ चौराहा होते हुए अम्बेडकर चौराहे पर आके खत्म हो गयी। मशाल जुलूस का समापन अम्बेडकर चौराहा स्थित अम्बेडकर की प्रतिमा पर फूल माला चढ़ा कर की गई।

 

भारतीय संविधान की आत्मा है बराबरी और इंसाफ़, आंबेडकर ने इस संविधान के बनने के बहुत पहले कहा था कि विधायिका जनता का प्रतिनिधित्व करती है, न कि मात्र बुद्धिजीवियों का,उनका आशय पढ़े-लखे लोगों को ही प्रतिनिधित्व का अधिकार देने से था. भारतीय संविधान जनता को संप्रभु मानता है और भारतीय राज्य अपनी संप्रभुता उसी जनता से ग्रहण करता है. यह ऐसा विलक्षण संविधान है जिसने एक ही बार हर वयस्क को मताधिकार दिया, उसमें किसी तरह की कोई शर्त नहीं लगाई। ऐसा करके उसने साधारण भारतीय जन की विवेक क्षमता पर भरोसा जताया।

 

 क्या जनतंत्र जैसे आधुनिक विचार का अभ्यास अनपढ़ जनता कर पाएगी? साल-दर-साल उस जनता ने इस विश्वास को सही साबित किया। इस तरह एक तरफ़ जहां संविधान जनता के लिए एक कसौटी है तो दूसरी ओर जनता संविधान की कसौटी है। इस बात को ध्यान में रखते हुए कम से कम तीन राज्य सरकारों की कोशिश देख लें जो उन्होंने स्थानीय निकायों के चुनाव में जनता की भागीदारी को सीमित करने के लिए की। एक ख़ास दर्जे तक पढ़े होने पर ही जन प्रतिनिधि बनने की योग्यता होगी, इस तरह का क़ानून लाने का प्रयास गुजरात, राजस्थान और हरियाणा की भारतीय जनता पार्टी की सरकारें कर रही हैं। यह भारतीय संविधान की मूल आत्मा के ख़िलाफ़ है,ये सरकारें जनता के एक बड़े हिस्से को जनता का प्रतिनिधित्व करने के अयोग्य ठहरा रही हैं। 

 

यह भी पढ़ें :  विश्व मृदा दिवस पर खेती के गुर सीख गदगद हुए अन्नदाता

 

यह भी पढ़ें : गोरखनाथ मंदिर में लाइट एंड साउंड शो की प्रस्तुति ऐसी की झूम उठे लोग......

 

यह भी पढ़ें : गोरखपुर पुलिस अधीक्षक उत्तरी ने पदभार किया ग्रहण

leave a reply

राज्यों के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी