दरोगा की करतूत, पीड़ित पर ही दर्ज कर दिया मुकदमा

Foto

राज्यों के समाचार/state news

राजीव शुक्ला

शाहजहांपुर। यूपी में कानून व्यवस्था को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ कि सभी दावे फेल होते नजर आ रहे हैं। पुलिस अधिकारियों की मनमानी और हैवानियत दोनों ही अपने चरम पर पहुंच गई है। जिले में दरोगा की ऐसी ही करतूत सामने आई है, जिसे सुन आपके होश उड़ जाएंगे। आरोप है कि दरोगा ने उसी शख्स पर मुकदमा दर्ज कर दिया जिस पर दबंगों ने हमला कर दिया था। 

 

बताते चलें कि मामूली विवाद में एक युवक पर जानलेवा हमला करते हुए मारपीट की गई। जब पीड़ित थाने पहुंचा तो उल्टे दरोगा साहब ने उसी पर मुकदमा दर्ज कर दिया।  बताया जा रहा कि कोतवाली पुलिस की बेरी चौकी के इंचार्ज की शह पर दबंगों ने की मिलीभग से इस काले कारनामे को अंजाम दिया गया है। कोतवाली पुलिस इस पूरे प्रकरण पर चुप्पी साधे हुए है। 

बताते चलें कि बिजली पुरा मोहल्ला निवासी गुलशन का भांजा मैशाद दरवाजे पर खड़ा था। इसी दौरान मामूली कहासुनी होने पर मोहल्ले के ही शाहनवाज बारिश और सरताज ने उसे सड़क पर घसीट लिया और गिरा गिरा कर मारना शुरू कर दिया। बचाने आई मामी पर भी कांते से प्रहार किया गया। उसकी पिटाई इतनी ज्यादा हुई कि वह गंभीर रूप से घायल हो गया।  उसी हाल में लेकर कोतवाली चौकी चौकी बेरी में ले जाया गया।

 

बताया जा रहा कि वेरी चौकी के प्रभारी संजय सिंह पहले से ही दबंगों से मिले हुए थे।  इसलिए उन्होंने कोई मुकदमा दर्ज नहीं किया और भगा दिया। उल्टा दबंगों ने पीड़ितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया। पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। लेकिन एसपी साहब भी प्रार्थना पत्र पर कोई कार्रवाई नहीं कर सके। अब देखना ये होगा कि दरोगा की दबंगई से पीड़ित को न्याय दिलाने के लिए कोई अधिकारी मदद करता है या उसे दर दर की ठोकरें ही खानी होगी।

 

यह भी पढ़ें:कांग्रेस नेता के लिए 'मिर्ची बाबा' को हवन करना पड़ मंहगा, अखाड़े से बाहर

यह भी पढ़ें:सूरत के तक्षशिला कॉम्पलेक्स हादसे में मरने वालों के लिए पीएम मोदी और राहुल...

leave a reply

राज्यों के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी