घाटिया मीटर बनाने वाली कंपनियों के बाद अब उसे पास करने वाले अभियंताओं की भी खैर नही

Foto

राज्यों के समाचार/state news

उपभोक्ता परिषद् ने ऊर्जा मंत्री से की कार्यवाई की मांग

लखनऊ। ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा के निर्देश पर घटिया मीटर निर्माता कम्पनियों के खिलाफ ब्लैक लिस्टिंग की कार्यवाही के बाद अब उन अभियन्ताओं पर भी कार्यवाही तय, जिन्होंने कम्पनियों से सांठ गांठ कर मीटर को पास किया था।

उपभोक्ता परिषद की लम्बी लड़ाई के बाद प्रदेश के ऊर्जा मंत्री द्वारा 25 फरवरी को घटिया मीटर निर्माताओं के खिलाफ जांच के निर्देश दिये गये उसके बाद बिजली कम्पनियों द्वारा घटिया मीटर निर्माता कम्पनियों के खिलाफ कठोर कार्यवाही के मद्दे नजर जहां कुछ कम्पनियों को ब्लैक लिस्टिंग/डिबार्ड  सहित उनकी गुणवत्ता की जांच करायी जा रही है।

अब वहीं दूसरी ओर बिजली अभियन्ताओं पर भी शिकन्जा कसने के लिये उपभोक्ता परिषद ने मोर्चा खोल दिया है। उसी क्रम में राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष व विश्व ऊर्जा कौंसिल के स्थायी सदस्य अवधेश कुमार वर्मा ने प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा से सोमवार को शक्ति भवन स्थित उनके कार्यालय में मुलाकात कर एक ज्ञापन सौंपा और चर्चा की।

उपभोक्ता परिषद अध्यक्ष ने उनके सामने यह मुद्दा उठाया कि विगत दिनों जिस प्रकार से पश्चिमांचल कम्पनी में मे.कैपिटल व फ्लैश इलेक्ट्रानिक मीटर निर्माता कम्पनियों को 3 साल के लिये डिबार्ड किया गया। केस्को में एवन मीटर निर्माता कम्पनी को ब्लैक लिस्ट किया गया और मे.जीनस मीटर निर्माता कम्पनी की बैंक गारण्टी जब्त की गयी।

वहीं इस ओर अब ध्यान दिया जाना और कठोर कार्यवाही कराया जाना आवश्यक है कि इन मीटर निर्माताओं द्वारा जब टेण्डर के माध्यम से आर्डर लिया गया तो उनके द्वारा फैक्टरी में मीटर तैयार करने के बाद उसके निरीक्षण परीक्षण के लिये इन्सपेक्शन करने हेतु बिजली कम्पनियों को पत्र लिखे गये।

उस समय जिन भी विद्युत अभियन्ताओं ने उस लाट के मीटर का निरीक्षण परीक्षण किया और पास करार दिया और आज वह जम्प कर रहे हैं, बैक हो रहे हैं और उनकी गुणवत्ता खराब है। इसका मतलब निरीक्षण करने वाले अभियन्ताओं ने घटिया मीटर निर्माता कम्पनियों से सांठ गांठ कर अपने निजी स्वार्थ में उन्हें पास करार दिया और जिसका खामियाजा प्रदेश की जनता ने भुगता। अब उनके खिलाफ उन्हें चिन्हित कर कठोर कार्यवाही किया जाना चाहिए। 

उपभोक्ता परिषद अध्यक्ष को ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने आश्वस्त किया कि घटिया मीटर निर्माता कम्पनियों के खिलाफ कोई भी ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जायेगी। जांच चल रही है जिन अभियन्ताओं द्वारा निरीक्षण परीक्षण के दौरान घटिया मीटर को पास किया गया है उन्हें चिन्हित कर कठोर कार्यवाही करायी जायेगी। किसी भी स्तर पर घटिया मीटर निर्माता कम्पनियों के खिलाफ कोई भी उदासीनता नहीं बरती जायेगी।

यह भी पढ़ें:    हस्ताक्षर अभियान चलाकर दिया मतदान का संदेश

यह भी पढ़ें:     राहुल गांधी का नामांकन वैध तो वहीं, चौकीदार चोर है' वाले बयान पर राहुल ने... 

leave a reply

राज्यों के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी