लोहिया आवास में प्रधान ने किया गोलमाल, गरीबों के लाखों रुपए डकारे

Foto

राज्यों के समाचार /States news

 

बदहाल गांव की बदहाल तस्वीर, लोग परेशान

सर्वजीत सिंह

श्रावस्ती|   देश के विकास का रास्ता गांव की गलियों से ही होकर जाता है। परन्तु जब गांव की तस्वीरें ही उपेक्षा के चलते बदहाल हो तो विकास की क्या उम्मीद की जा सकती है। जी हां हम बात कर रहे हैं  श्रावस्ती जिले के हरिहरपुर रानी के पटना खरगौरा गांव की है। गांव में प्रवेश करते ही शिक्षा का मंदिर यानी गांव का प्राथमिक विद्यालय स्थित है, जिसकी हालात आप अपनी टीवी स्क्रीन पर देख कर ही अंदाज़ा लगा सकते हैं। कि इस गांव का क्या विकास हुआ होगा। 

 

 

ग्रामीणों का आरोप है कि ग्राम प्रधान के द्वाराज गांव के लोगों से सौतेला व्यवहार किया जाता है, साथ ही पुराने निर्माण कार्यों पर मरम्मत और रंगाई पुताई कर सरकारी धन में भी काफी हेरफेर की गई है।लाभार्थियों ने बताया कि प्रधान ने सबके बैंक पास बुक जमा करवा लिया था और हमे बैंक बुलाकर पैसे निकलने के बाद सारे पैसे प्रधान ले लेता था और अपने अनुसार घटिया मटेरियल भेजकर खुद ही आवास का निर्माण करवाया है जो कि आवास अभी भी अपूर्ण है और प्रधान से शिकायत करने पर प्रधान कहता कि जितना बनवा दिए उतने से ही संतुष्ट रहो। 

वहीं लोगों को जो आवास दिए गए है वह भी मॉनक विहीन और निर्माण अधूरा हैं, आवासों का निर्माण स्वयं ग्राम प्रधान द्वारा घटिया मटेरियल से करवाया गया आवास पूर्ण होने से पहले ही छतों और दीवारों में दरार पड़ने लगी जिससे कभी भी किसी दुर्घटना की भी लाभार्थियो के मन मे आशंका है..ग्रामीण वासियों ने नरेगा मजदूरी की भी पोल खोली और बताया कि ग्रामप्रधान ने साठगांठ कर गरीबों की मजदूरी भी डकार ली। गांव के कई लोगों ने शपथ पत्र के माध्यम से जिलाधिकारी दीपक मीणा से शिकायत भी की है,कार्यवाही के नाम पर नतीजा जस का तस। 

 

 

यह भी पढ़ें :  एंटीबायोटिक जागरूकता में ममता जोशी को किया गया सम्मनित

 

यह भी पढ़ें :समाधान दिवस पर कमिश्नर व डीएम ने सुनी पीड़ितों की बात....

 

leave a reply

राज्यों के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी