महावीर स्वामी की मूर्ति स्थापना, 15 दिवसीय समारोह शुरु

Foto

State News / राज्य समाचार

 

अर्पित शर्मा


आगरा। जिले के महाभारत कालीन नगरी एवं जैन तीर्थ शौरीपुर में 22वें तीर्थंकर भगवान नेमीनाथ नव निर्मित मन्दिर में विराजेगें। उनके पिता समुद्र विजय और मां शिवा देवी की भी प्राण प्रतिष्ठा होगी। गत रविवार को राष्ट्रीय संत पदम सागर सुरिश्वर जी महाराज जी बटेश्वर शोरी पुर पहुंचे। यहां रविवार से सुबह से 15 दिन चलने वाला समारोह शुरू हो गया। शौरीपुर श्वेताम्बर तीर्थ ट्रस्ट की देख रेख मे प्राचीन मन्दिरों की जगह पर नये मन्दिरों का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। शौरीपुर महाभारत कालीन नगरी है। 22वें तीर्थंकर भगवान नेमीनाथ की जन्म कल्याणक भूमि है।

 


सोच को मिल रहा आकार


ज्ञात रहे कि यहं पर दो बार भ्रमण के दौरान पदम सागर सूरीश्वर महाराज ने मन्दिरों की दुर्दशा पर नव निर्माण की सोच को जन्म दिया था। अब उसी को आकार मिल रहा है। यहॉ पर काम देख रहे अहमदाबाद के प्रकाश भाई ने बताया कि 10 फरवरी को राष्ट्रीय संत पदम सागर सूरीश्वर महाराज के आगमन के साथ ही 15 दिवसीय समारोह शुरू होगा। 11 फरवरी को पूजा, कुम्भ स्थापना होगी। 15 फरवरी से भगवान नेमीनाथ के माता पिता बनेगें। 18 फरवरी को मन्दिर में विराजेगें। 21 फरवरी को सिद्घ चक्र महापूजन होगा। 22 फरवरी को राष्ट्रीय संत के प्रवचन, 23फरवरी को अभिषेक विधान, 24 फरवरी की सुबह भगवान नेमीनाथ गाडी पर विराजमान होगें, प्रतिष्ठा विधान होगा।

 

25 फरवरी को उद्घाटन

 

25 फरवरी को  उद्घाटन के साथ ही श्रृद्घालुओं के दर्शन के लिए मन्दिर खोल दिया जायेगा। समारोह में देश भर से जैन समुदाय शिरकत करेगा। इसके लिए तैयारियं पूरी कर ली गयी है। जैन समाज द्वारा संत पदम सुरेश्वर के साथ कुंभ कलश यात्रा बैंड बाजों के साथ धूमधाम से निकाली गई। 

 


जबरा रोपण कार्यक्रम


बताते चलें कि अयोजन को लेकर कलश स्थापना, मंगलदीप स्थापना और जबरा रोपण कार्यक्रम रखा गया। जिसमें पूर्व सांसद निहाल सिंह जैन के द्वारा भी कार्य कराया गया। जैन समाज द्वारा एक भव्य मंदिर निर्माण कार्य करने 22वें तीर्थंकर भगवान स्वामी जी भगवान महावीर स्वामी की मूर्ति स्थापना के लिए राष्ट्रीय संत सुरीश्वर जी महाराज का  मंगल प्रवेश हुआ। आगरा भी मौजूद रहे। विनीत गोल्छे ने बताया कि इस मंदिर की कार्यशैली कराई अति सुंदर होगी जिसमें सफेद पत्थर अति उत्तम लगाया जाएगा और सोरी पुर तीर्थ को सुंदर बनाया जाएगा। उसके विकास के लिए टूरिस्ट विभाग से बात की जाएगी।

 

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ से PM मोदी का वार - कांग्रेस ने देश को किया गुमराह

यह भी पढ़ें: कोई मां का लाल पीएम मोदी की नीयत पर सवाल नहीं उठा सकता : राजनाथ

leave a reply

राज्यों के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी