संपन्न सक्सेना ने 45 दिन में बनाई विश्व की सबसे बड़ी घड़ी

Foto

State News / राज्य समाचार

 

15 मिनट में घड़ी को खोलकर कहीं भी ले जा सकते हैं

 

अर्पित शर्मा

आगरा। विश्व रिकॉर्ड में नाम दर्ज कराना कोई आसान काम नहीं होता है। लेकिन इसके बावजूद भी विश्व में आए दिन कई रिकॉर्ड बनते हैं और कई रिकॉर्ड टूटते हैं। ऐसा ही एक कारनामा संपन्न सक्सेना छात्र दयालबाग इंस्टिट्यूट ऑफ़ एजुकेशन ने कर दिखाया।जब उन्होंने विश्व की सबसे बड़ी घड़ी बनाई।

 

लिंबा बुक ऑफ रिकॉर्ड 


सक्सेना की इस सफलता को लेकर उनका नाम लिंबा बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज होने के लिए बेकरार है। छात्र ने तंग रेस्टोरेंट B-85 ट्रांस यमुना कॉलोनी फिरोजाबाद रोड पर प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों से वार्ता की। उन्होंने बताया कि मैंने विश्व की सबसे बड़ी घड़ी बनाई है, जो 5 फुट 7 इंच व्यास की है।


अभी दर्ज ये रिकॉर्ड


बताते चलें कि अभी तक 4 फुट 9 इंच की सबसे बड़ी घड़ी लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज है। सक्सेना ने बताया कि उन्होंने जो घड़ी बनाई है, वह इससे बड़ी है। साथ ही साथ इस घड़ी में खासियत यह है कि यह 15 मिनट में खोलकर कहीं भी ले जा सकते हैं। इस घड़ी के निर्माण में कड़ी मेहनत करने पर 45 दिन लग गए। यह घड़ी अपने आप में भारत देश की एक अनूठी मिसाल है।

 

यह भी पढ़ें: यूपी - उत्तराखण्ड में जहरीली शराब का कहर जारी, 92 के पार पंहुची मरने वालों की संख्या

यह भी पढ़ें: शराब ठेकेदारों की दबंगई, पिता पुत्र की पीट पीटकर हत्या

leave a reply

राज्यों के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी