मोबाइल पर आज से मिलेगा अनारक्षित टिकट, जानिए कैसे..

Foto

टेक्नोलॉजी/Technology

 

नई दिल्ली। अब यात्रा के लिए अनारक्षित टिकट खरीदने वालों के लिए एक अच्छी खबर है। टिकट खिड़कियों की लंबी कतारों में खड़े रहने वाले यात्रियों को जल्द ही यूटीएस के जरिए टिकट बुक करने का विकल्प मिलेगा। सेंटर फॉर रेलवे इन्फार्मेशन सिस्टम (क्रिस) द्वारा तैयार अनारक्षित टिकटिंग ऐप (यूटीएस) के जरिए गैर उपनगरीय रूट का टिकट भी बुक कराया जा सकेगा। इस ऐप के जरिए पैसेंजर ट्रेनों के अलावा मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों के जनरल टिकट भी बुक किए जा सकेंगे। 

 

यह भी पढ़ें- ये सावधानियां बरतेंगे तो नहीं चोरी होगा मोबाइल

 

पश्चिम रेलवे द्वारा यात्रियों को जागरूक करने एवं मोबाइल टिकटिंग के माध्यम से नॉन कैश टिकटिंग की ओर आकर्षित करने के लिए 17 उपनगरीय स्टेशनों पर अभियान चलाया गया। पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी रविंद्र भाकर के अनुसार, इस ऑनलाइन यूटीएस ऐप को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य यात्रियों को डिजिटल टिकटिंग माध्यम की ओर जोड़ना है। मोबाइल टिकटिंग को प्रोत्साहित करने के क्रम में रेलवे द्वारा प्रत्येक आर-वैलेट रीचार्ज पर 5 प्रतिशत बोनस देने की घोषणा की गई है। पश्चिम रेलवे के सभी मंडलों पर ऑनलाइन यूटीएस ऐप की सुविधा उपलब्ध होगी। मुंबई मंडल, पश्चिम रेलवे की वरिष्ठ वाणिज्य प्रबंधक आरती सिंह परिहार ने कहा, ‘रेलवे यूटीएस ऐप के जरिए गैर उपनगरीय नेटवर्क पर टिकट बुकिंग की योजना से यात्रियों को फायदा होगा और समय की बचत भी होगी।’ 

 

यह भी पढ़ें- Vivo V11 Pro से करे 4K वीडियो रिकार्डिंग,जाने कीमत और खासियत  



अब तक मिलता था लोकल का टिकट 
यूटीएस ऐप के जरिए टिकट बुकिंग की सुविधा मुंबई के अलावा चेन्नै उपनगरीय सिस्टम के लिए मौजूद है। इसे विस्तार देने के लिए क्रिस ने इसे गैर-उपनगरीय स्टेशनों के लिए भी शुरू करने की तैयारी की है। ऐप अपग्रेड करने के बाद मुंबई से दिल्ली से देहरादून तक सभी ट्रेनों के जनरल क्लास के टिकट बुक किए जा सकेंगे। इस तरह से टिकट बुकिंग के लिए आपको स्मार्टफोन की जरूरत होगी, जिसमें ग्लोबल पॉजिशनिंग सिस्टम (जीपीएस) की सुविधा हो।

ऐसे करें ऐप्लिकेशन का इस्तेमाल 
•अपने विंडो, एन्ड्रॉइड बेस्ड या आईओएस मोबाइल पर UTS ऐप्लिकेशन डाउनलोड करें। ये ऐप्लिकेशन प्ले-स्टोर या ऐप्लिकेशन स्टोर पर उपलब्ध है। 
•ऐप्लिकेशन डाउनलोड होने के बाद अपना मोबाइल नंबर डालकर खुद को रजिस्टर कर लें। रजिस्टर होने के बाद आपको स्टेशनों के नाम और आर-वॉलेट नजर आएगा। 
•आर-वॉलेट में आपको पैसे जमा रखने होंगे। कम से कम 100 रुपये रखने अनिवार्य हैं। इसे रीचार्ज करने पर रेलवे 5 प्रतिशत बोनस भी देती है। 

 

यह भी पढ़ें-  इंटरनेट ब्राउजर से चीन जोड़ेगा  यूजर का फोन नंबर 



कैसे करें आर-वॉलेट को रीचार्ज 
•इस वॉलेट में राशि किसी भी यूटीएस काउंटर (टिकट विंडो) या ऑनलाइन www.utsonmobile.indianrail.gov.in द्वारा लोड की जा सकती है। 
•वेबसाइट पर जाने के बाद रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और पासवर्ड डालना होगा। इसके बाद वॉलेट रीचार्ज करने का विकल्प मिलेगा। 
•वॉलेट रीचार्ज करने के लिए रेलवे ने पेटीएम का विकल्प दिया है। पेटीएम को चुनने के बाद नेट बैंकिंग और कार्ड से पेमेंट का ऑप्शन मिलेगा। निर्धारित माध्यम चुनने के बाद आप आर-वॉलेट को रीचार्ज कर सकते हैं।


कैसे करें टिकट बुकिंग 
•टिकट बुक करने के लिए आपको स्टेशन क्षेत्र के 2 किमी दायरे में रहना होगा, लेकिन ट्रैक से कम से कम 30 मीटर दूर रहना पड़ेगा। 
•टिकट बुकिंग करते वक्त आपके मोबाइल का इंटरनेट और जीपीएस दोनों ही ऑन होने चाहिए। 
•यूटीएस ऐप्लिकेशन में लॉग इन करने के बाद शहर चुनें, रूट चुनें और गंतव्य चुनें। 
•प्रक्रिया पूरी करने के बाद आर-वॉलेट से पेमेंट कर दें। आपको टिकट मोबाइल पर मिल जाएगी। 

leave a reply

टेक्नोलॉजी

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी