भारत के धैर्य की विश्व में हो रही सराहना

Foto


विश्व के समाचार/worldsnews

नई दिल्ली। भारत की ​विश्व में सराहना हो रही है। बुधवार को जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया और आतंकी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने के मामले पर वीटो का इस्तेमाल करके रोड़ा अटकाया था। चीन का कहना था कि उसे थोड़ा समय चाहिेए ताकि ऐसा फैसला लिया जाए जो सभी को मंजूर हो। इसके बाद प्रधानमत्री की चुप्पी पर विपक्षी पार्टियों ने सवालों की बैछार कर दी।

सबसे ज्यादा प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस के राष्टीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा था कि मोदी जी चीन से डर क्यों गए। भारत के पास 14 सदस्यों का समर्थन मौजूद है, इसके बाद भी वह किसी प्रकार की टिप्पणी नहीं कर रहा है। इस मामले में धैर्य ही रखेगा। सूत्रों का कहना है कि जितना धैर्य प्रधानमंत्री और सरकार रखेगा उतना ही समर्थन मिलेगा।

पिछले कुछ वर्षों के दौरान की स्थित को भी उदाहरण के रूप में देखा जा सकता है। मनमोहन सरकार में समर्थन देश कम थे। जबकि प्रधानमंत्री मोदी के दौर में समर्थक देश बढ़े हैं। सरकार का मानना है कि चीन भी जानता है कि विश्व के तमाम देशों का दबाव उस पर है, क्योंकि आतंकी मसूद पाकिस्तान में रहता है।

दुनिया के किसी भी देश में आतंकी घटना हुई तो उसका ताल्लुक पाकिस्तान के किसी संगठन से ही रहा है। चीन को यह भलीभांति मालूम है कि आतंकी किसी भी राष्ट के लिए विनाशकारी हो सकते हैं। सूत्र बताते हैं कि भारत चुप नहीं बैठा है, बल्कि उसकी रणनीति काम कर रही है। अमेरिका भारत का समर्थन करता है और उसने आश्वासन दिया है कि पाकिस्तान कार्रवाई करेगा।

 

यह भी पढ़ें    फ्रांस सरकार जब्त करेगी आतंकी मसूद की संपत्ति

यह भी पढ़ें    चीन ने फिर दिया मसूद अजहर का साथ, अमेरिका ने दी 'एक्शन' की चेतावनी

leave a reply

विश्व के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी